1 मई से 15 जून के बीच–द्वितीय चरण जनसंख्या की परिगणना होगी 9 फरवरी 2021 से 28 फरवरी, 2021 तक और रीविजनल राउण्ड होगा एक मार्च से पांच मार्च 2021 के बीच:-सहायक निदेशक रूचि गुप्ता।
February 25th, 2020 | Post by :- | 63 Views

अम्बाला,अशोक शर्मा
जनगणना विभाग की सहायक निदेशक रूचि गुप्ता ने जानकारी दी कि प्रथम चरण में मकान सूचीकरण और मकानों की गणना का कार्य 1 मई और 15 जून के बीच किया जायेगा जबकि दूसरे चरण की जनसंख्या की परिगणना का कार्य 9 फरवरी 2021 से 28 फरवरी तक होगा। इसके अलावा रिविजनल राउंड का कार्य एक मार्च से पांच मार्च 2021 के बीच करना निर्धारित किया गया है। सहायक निदेशक मंगलवार को स्थानीय पंचायत भवन में जिला कर्मियों के लिए जनगणना-2021 हेतु दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला में सम्बन्धित अधिकारियों को जानकारी दे रही थी।
सहायक निदेशक रूचि गुप्ता ने बताया कि यह प्रशिक्षण जनगणना कार्य निदेशालय, हरियाणा के अधिकारियों द्वारा दिया जा रहा है जिसमें जनगणना- 2021 के लिए अपनाई जाने वाली प्रक्रिया एवं कार्य प्रणाली के संबध में प्रशिक्षित किया जा रहा है। कार्यशाला में जिला कर्मियों को सीएमएमएस पोर्टल के क्रियात्मक पहलूओं और जनगणना अनुवीक्षण जैसे- जनगणना कार्यात्मक कर्मियों का पंजीयन, प्रशिक्षण बैचों का सृजन, मोबाईल मोड में आंकड़े एकत्रीकरण की स्थिति बारे बताया जा रहा है। उन्होने यह भी बताया कि मानदेय आदि सभी भुगतान सीएमएमएस पोर्टल के माध्यम से पीएफएमएस की सहायता से किया जायेगें।
उन्होने कार्यशाला में यह भी बताया कि पहली बार जनगणना डिजिटल मोड पर करवाई जा रही है जहां प्रगणकों द्वारा विशेष रूप से डिजाईन किए गये मोबाईल एप्प पर आकंड़े एकत्रित किए जायेंगे। मोबाईल एप्प पर आंकड़े इक_ïे होने पर जनगणना आंकड़े समय पर जारी किये जा सकेंगे। जनगणना की सभी गतिविधियों और प्रगति का अनुवीक्षण समयानुसार सीएमएमएस पोर्टल जोकि इसी कार्य के लिए विकसित और डिजाईन किया गया है, पर किया जायेगा। जनगणना-2021 की गतिविधियों के क्रियान्वयन एवं राष्टï्रीय जनसंख्या रजिस्टर के उद्यतीकरण की प्रक्रिया व अनुवीक्षण में सीएमएमएस पोर्टल मुख्य भूमिका निभानें जा रहा है। कार्यशाला में डीआईपीआरओ धर्मवीर सिंह द्वारा जनगणना विषय पर लिखे गये सोंग जनगणना बुनियाद देश की लोकतंत्र की है पहचान, सही समय पर बने नीतियां विकास कार्य सबकी शान। को भी कार्यशाला में चलाया गया।
प्राप्त जानकारी के अनुसार हरियाणा में 49 मास्टर ट्रेनरों को जनगणना कार्य का प्रशिक्षण दिया जा चुका है, 860 फील्ड ट्रेनरों को मार्च, 2020 के दौरान वृहत एवं गहन प्रशिक्षण दिये जाने का प्रस्ताव है। ये फील्ड ट्रेनर अप्रैल, 2020 माह के दौरान आगे प्रगणकों व पर्यवेक्षकों को प्रशिक्षित करेंगे। इस प्रशिक्षण में डीआरओ विनोद शर्मा, डीआईपीआरओ धर्मवीर सिंह, डीआईओ विनय गुलाटी सहित सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।