प्रताप गेट स्थित श्री शिव वाटिका में महाशिवरात्रि बड़े श्रद्घा और उल्लास के साथ मनाई
February 22nd, 2020 | Post by :- | 101 Views

कैथल, लोकहित एक्सप्रैस, ( ब्यूरो चीफ विशाल चौधरी ) । प्रताप गेट स्थित श्री शिव वाटिका में महाशिवरात्रि बड़े श्रद्घा और उल्लास के साथ मनाई गई। महाशिवरात्रि के उपलक्ष्य में सुबह शिव वाटिका में हवन यज्ञ भी किया गया जिसमें मुख्य यजमान के स रूप में लक्ष्य चौधरी व उनकी धर्मपत्नी श्रुति चौधरी ने आहूति अर्पित की। मंदिर में जलाभिषेक करने के लिए सुबह से ही श्रद्घालुओं की भारी भीड़ लग गई थी।इस अवसर पर महन्त हरीश जी शास्त्री एवम सन्त आशीष जी अपना आशीर्वाद देने के लिए पहुंचे। प्रधान कृष्ण नारंग ने बताया कि महाशिवरात्रि पर्व के उपलक्ष्य में मंदिर में विशेष तरह के प्रबंध किए गए है। जलाभिषेक करने आए श्रद्घालुओं को प्रसाद भी वितरित किया गया। प्रधान कृष्ण नारंग ने बताया कि शिव भक्तों के लिए महाशिवरात्रि का दिन बेहद ही महत्वपूर्ण होता है। इस दिन वो शंकर भगवान के लिए व्रत रख खास पूजा-अर्चना करते हैं। वहीं महिलाओं के लिए महाशिवरात्रि का व्रत बेहद ही फलदायी माना जाता है। महाशिवरात्रि का दिन भगवान शिव के लिए बहुत महत्वपूर्ण दिन है क्योंकि इस दिन शिव और शक्ति मिलन हुआ था। शिवपुराण के रुद्रसंहिता में बताया गया है कि महाशिवरात्रि पर महामृत्युंजय मंत्र का जप विशेष फलदायक हो सकता है। शिव पुराण के अनुसार महामृत्युंजय मंत्र जप से भक्त आपनी मनोकामना भी पूरी कर सकता है। इस अवसर पर महासचिव बिशंबर अरोड़ा, इन्द्रजीत सरदाना, सुधीर मैहता, अमर नाथ भगत,तुलसीदास सचदेवा,अधिवक्ता राज कुमार निझावन,कमल आहूजा,योग राज बत्तरा,विनोद खंडूजा,दर्शन लाल मनचन्दा,अरविन्द आशु कक्कड़,सौरभ सरदाना, भारत भूषण टक्कर,शिव शंकर पाहवा,ललित नरूला,महेन्द्र खन्ना, सुरेश एलावादी, डा. अश्वनी खुराना, बिंदु मक्कड़, विनोद दुआ, सुरेश तनेजा, संजय सेतिया, वरुण मदान,राजू छाबड़ा,मनोहर लाल आहूजा, महेश कुर्रा, यशपाल तनेजा, अनिल आहुजा, रामकिशन डिगानी, ओमप्रकाश दुआ, प्रकाश नारंग, सुभाष नारंग,हर्ष नारंग,वेद नरुला,पंकज लवली गुलाटी,नरेन्द्र निझावन, सतीश चावला,वी.के. चावला,प्रदर्शन परुथी,संदीप मलिक,सुभाष कथूरिया,संजय सेतिया,राकेश टंडन,धन सचदेवा,ज्ञान प्रकाश कुमार,महेन्द्र सीकरी,सतीश कथूरिया आदि भी मौजूद थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।