साई में शिव पुराण में किया शिव विवाह का वर्णन
February 20th, 2020 | Post by :- | 82 Views

प्राचीन शिव मंदिर साई में चल रहे शिव महापुराण के 8वें दिन शिव विवाह का आयोजन किया गया। कथावाचक विरेश मैत्रय ने शिव विवाह समारोह का सचित्र वर्णन किया। उन्होंने कहा कि महाराज हिमाचल राज के घर भोलेनाथ की अदभुत बारात गई। इसमें बाराती भी सभी अदभुत और दिव्य रहे। उन्होंने कहा कि माता सति ने भगवान भोलेनाथ को पाने के लिए पहले कठोर तपस्या की, जब जाकर उन्हेें अपने पति के स्वरूप में हासिल किया। मैत्रय ने कहा कि किसी को पाने के लिए उसके लिए पहले मेहनत करना जरूरी है। बिना मेहनत के मिली वस्तु की कोई कद्र नहीं होती। उन्होंने कहा कि इसी लिए कहा भी गया है कि मेहनत का फल मीठा होता है। मेहनत करने के बाद प्राप्त हुई अनमोल वस्तु आपको प्रिय भी लगेगी। कई बार हम देखते हैं कि आपके घर में बहुत सारा सामान यूं ही बिखरा पड़ा रहता है, वो इसलिए क्योंकि वह सब हमें आसानी से बिना मेहनत से प्राप्त हुआ होता है। अगर उस वस्तु को प्राप्त करने के लिए आपने मेहनत की होती हो उसकी आप कद्र करते उसे संभाल-संभाल कर रखते। इसलिए मेहनत जरूर करें, बिना परिश्रम के तो फल भी नहीं मिलता।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।