केन्द्रीय दल ने किया टिड्डी प्रभावित क्षेत्र का दौरा । प्रभावित किसानो से बात कर ली जानकारी
February 18th, 2020 | Post by :- | 182 Views
खाजूवाला  (रामलाल लावा ) अंतर मंत्रालयिक केंद्रीय दल के सदस्यों ने मंगलवार को खाजूवाला क्षेत्र में टिड्डी प्रभावित क्षेत्र का दौरा कर फसल खराबे का आकलन किया।
निदेशक डीएमडी डाॅ. सुभाष चन्द्रा के नेतृत्व में आए इस दल में केंद्रीय वाटर कमीशन के अधिकारी एसडी शर्मा और आईसीएआर के पौध संरक्षक अधिकारी डॉ विपिन शर्मा ने भी किसानों से चर्चा कर, फसलों को हुए नुकसान की जानकारी ली।
जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम ने केंद्रीय दल को सीमावर्ती  क्षेत्र में टिड्डी आने के बाद उपजे हालात और टिड्डी के नियंत्रण के लिए की गई व्यवस्थाओं और संसाधनों के बारे में बताया। अंतर मंत्रालयिक केंद्रीय दल 3 पावली, चक, 24 केएनडी चक, 10 बी डी गांव के किसानों से मिले। किसानों ने उन्हें टिड्डी प्रभावित फसलों की जानकारी दी। किसानों ने बताया कि उनकी सरसों, चना, तारामीरा और  गेहूं की फसलों को सबसे ज्यादा नुकसान हुआ। खेत में टिड्डी  द्वारा खराब की गई सरसों फसल के  डंठल साफ दिखाई दे रहे थे। उन्होंने 3 पावली चक के खेत मालिक किसान भंवर पंडत, 24 केएनडी के किसान राजूराम, किसान भागीरथ पुत्र मालू राम से उनके खेतों में बोई हुई फसलों के बारे में पूछा। अंतर मंत्रालयिक केंद्रीय दल ने किसानों से पूछा कि उन्होंने कितनी बीघा में बिजाई की थी, अगर टिड्डी नहीं आती तो फसल उत्पादन कितना होता और टिड्डी के फसल चट करने के बाद अब कितना उत्पादन हो सकेगा। साथ ही उन्होंने पूछा कि इस इलाके में कितनी बार टिड्डी  आई और खेतों में कितनी देर तक रुकी। उन्होंने किसानों से पूछा कि नियंत्रण के लिए क्या प्रयास हुए हैं, इस पर किसानों ने उन्हें बताया कि जिस भी खेत में टिड्डी  बैठी उन खेतों की  सरसों, चना, तारामीरा और गेहूं की फसलों को चैपट कर दिया। जितने भी क्षेत्र में  फसल बची है वह जिला प्रशासन, कृषि व अन्य विभागों और किसानों के सहयोग से बची है। मुसीबत की घड़ी में जिला प्रशासन ने बहुत सहयोग किया है। उन्होंने उप खण्ड अधिकारी खाजूवाला संदीप कुमार से तहसील क्षेत्र में किसानों की संख्या और प्रभावित किसानों के बारे में जानकारी ली। उन्होंने हलका पटवारी से फसल खराबा की गई गिरदावरी के बारे में भी जानकारी ली।
इस अवसर पर संयुक्त निदेशक (कृषि विस्तार) जगदीश पूनिया, टिड्डी विभाग के पौध संरक्षण अधिकारी धन्ने सिंह, सहायक निदेशक (कृषि विस्तार) डाॅ. राम किशोर मेहरा, कृषि अधिकारी डाॅ. सुभाष चंद्र बिश्नोई मौजूद रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।