असिस्टेंट प्रोफेसर की भर्ती में नए मापदंड निर्धारित करे : हरियाणा लोक सेवा आयोग
February 18th, 2020 | Post by :- | 1593 Views

कुरुक्षेत्र, लोकहित एक्सप्रेस, (सैनी)। हरियाणा सरकार में मुख्यमंत्री मनोहर लाल की छवि एक ईमानदार  नेता के रूप में रही है।प्रशासन में पारदर्शिता लाने व भ्रष्टाचार से मुक्त करने के लिए अनेक कदम उठाए है। नौकरियों में ग्रुप सी व डी में साक्षात्कार खत्म करके एक पारदर्शिता लाने का सराहनीय कदम उठाया है। परन्तु हरियाणा लोक सेवा आयोग पर विभिन्न भर्तियो पर इल्जाम लगते रहे है, जिसमे पिछली असिस्टेंट प्रोफेसर की भर्ती में भूगोल विषय, अंग्रेजी विषय और समाजशास्त्र विषय पर सवाल उठाए गए थे। कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय, कुरुक्षेत्र के विभिन्न विभागों के विद्यार्थी हरियाणा लोक सेवा आयोग के असिस्टेंट प्रोफेसर पद के मापदंड को लेकर लामबंद होना शुरू हो गए है। कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के विद्यार्थी चाहते है कि लोक सेवा आयोग असिस्टेंट प्रोफेसर की भर्ती के लिए नए मापदंड निर्धारित करे। असिस्टेंट प्रोफेसर की भर्ती स्नातक कक्षाओं को पढ़ाने के लिए की जाती है, अत: दसवीं व बारहवीं कक्षा के अंक भर्ती में शामिल न किए जाए। लिखित परीक्षा के लिए कम से कम 160अंक निर्धारित किए जाए। शैक्षणिक योग्यता में स्नातक, स्नातकोत्तर, एम. फिल, पी एच डी, राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा, अनुसंधान व सेमिनार के लिए 30 अंक निर्धारित किए जाए। साक्षात्कार के लिए अधिकतम 10 अंक ही निर्धारित किए जाए।  विश्वविद्यालय के विद्यार्थी भी यही चाहते है कि आने वाली असिस्टेंट प्रोफेसर की भर्ती भ्रष्टाचार से मुक्त हो और पूर्ण योग्यता पर आधारित हो, इसके लिए हरियाणा लोक सेवा आयोग के असिस्टेंट प्रोफेसर पद के मापदंड को फिर से निर्धारित करे। इस अवसर पर विश्वविद्यालय के विभिन्न विद्यार्थी सोमपाल सिंह मेहला, जितेन्द्र सिंह, अनिल चहल, कुलदीप कुमार, विक्की कुमार, पुष्पेन्द्र, कोमल व प्रीती उपस्थित रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।