शीतकालीन प्रवास के दौरान मुख्यमंत्री ने बिधानसभा क्षेत्र इंदौरा में दी 65 करोड़  रुपये की सौगातः
February 15th, 2020 | Post by :- | 190 Views

 

 

लोकहित एक्सप्रेस (टीम इन्दौरा)

 

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने कहा कि कांगड़ा जिला के शीतकालीन प्रवास के प्रथम चरण में उन्होंने जिला के तीन विधान सभा क्षेत्रों में 165 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किए हैं। मुख्यमंत्री आज कांगड़ा जिला के इंदौरा विधान सभा क्षेत्र के अंतर्गत सूरजपुर में एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज उन्होंने इंदौरा विधान सभा क्षेत्र के लोगों के लिए 65 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं का तोहफा दिया है। इसी प्रकार बैजनाथ और कांगड़ा विधान सभा क्षेत्रों के लिए भी 50-50 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाएं की गई हैं। ये उन लोगों को एक जोरदार जवाब है, जो अनावश्यक और निराधार आरोप लगाकर लोगों को भ्रमित करने का प्रयास करते हैं। लेकिन प्रदेश की प्रबुद्ध जनता यह भली भांति समझती है कि उनका सच्चा हितैषी कौन है।

जय राम ठाकुर ने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार कांगड़ा जिला के समग्र विकास को शीर्ष प्राथमिकता दे रही है, क्योंकि यह प्रदेश का सबसे बड़ा जिला है। राज्य सरकार का एक वर्ष का कार्यकाल पूरा होने के अवसर पर धर्मशाला में समारोह आयोजित किया गया और उसके उपरांत यहां पर वैश्विक निवेशक सम्मेलन का भी आयोजन किया गया। इन दोनों प्रमुख समारोहों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शामिल हुए थे।

उन्होंने कहा कि विपक्ष के नेता प्रदेश सरकार द्वारा आयोजित वैश्विक निवेशक सम्मेलन को लेकर सवाल पूछ रहे हैं। उन्होंने कांग्रेस पार्टी के नेताओं को स्मरण करवाया कि निवेश आकर्षित करने के लिए उन्होंने भी देशभर का दौरा किया, हालांकि हिमाचल प्रदेश में निवेशकों को लाने में उनके प्रयास पूरी तरह विफल हुए। इधर, वर्तमान सरकार 96 हजार करोड़ रुपये से अधिक निवेश के समझौता ज्ञापनों को हस्ताक्षरित करने में सफल रही है। इसके साथ ही राज्य सरकार के दो वर्ष का कार्यकाल पूरा होने के अवसर पर 13,400 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का ग्राउंड ब्रेकिंग समारोह आयोजित किया गया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार का अभी तक का कार्यकाल सुशासन, विभिन्न क्षेत्रों में नवाचार और जन सेवाओं को समर्पित रहा है। सरकार की विभिन्न योजनाओं के प्रभावी कार्यान्वयन के कारण प्रदेश की जनता के जीवन में बड़ा बदलाव आया है। चारों लोकसभा चुनाव और दोनो विधान सभा उप चुनाव भाजपा ने रिकाॅर्ड अंतर से जीते, जिससे यह साबित हो गया है कि प्रदेश की जनता ने सरकार की नीतियों एवं कार्यक्रमों को अपना पूरा सहयोग दिया है।

उन्होंने कहा कि अपनी समस्याओं का समाधान करवाने में जनमंच लोगों के लिए वरदान साबित हो रहा है। इसके अतिरिक्त मुख्यमंत्री हेल्पलाईन-1100 भी आरंभ की गई है, जिसके माध्यम से कोई भी व्यक्ति फोन के माध्यम से अपनी शिकायत या समस्या दर्ज करवा सकता है। राज्य में हिमकेयर योजना आरंभ कर उन 22 लाख लोगों को लाभान्वित किया गया है, जो भारत सरकार की आयुष्मान भारत योजना का लाभ नहीं उठा पाए थे। राज्य सरकार ने सहारा योजना भी आरंभ की है, जिसके अंतर्गत उन परिवारों को 2000 रुपये प्रतिमाह की आर्थिक सहायता प्रदान की जा रही है, जिनके परिवार में कोई सदस्य गंभीर रूप से बीमार है। गृहिणी सुविधा योजना के माध्यम से हिमाचल प्रदेश देश का पहला धुआंरहित राज्य बन गया है।

पुलवामा हमले के शहीदों को श्रद्धांजलि देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मजबूत नेतृत्व ने पाकिस्तान के जघन्य ईरादों को उचित जवाब देते हुए सर्जिकल स्ट्राईक के माध्यम से पाकिस्तान आतंकियों के प्रशिक्षण शिविरों को तबाह किया। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 का हटना केवल नरेंद्र मोदी के नेतृत्व के कारण संभव हो पाया।

जय राम ठाकुर ने पालमपुर, ज्वालामुखी, जयसिंहपुर और ज्वाली विधान सभा क्षेत्रों में गौ-अभ्यारण्य स्थापित करने के लिए दो-दो करोड़ रुपये देने की घोषणा की।

उन्होंने गंगथ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को नागरिक अस्पताल और मंड क्षेत्र के तैयोडा स्वास्थ्य उपकेंद्र को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के रूप में स्तरोन्नत करने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला बाड़ी-कन्दोरी में विज्ञान कक्षाएं और राजकीय महाविद्यालय इंदौरा में एमएससी की कक्षाएं शुरू की जाएंगी। ओर प्रतिबंध हटते ही ठाकुरद्वारा में उप तहसील बनाने के बारे में भी बिचार किया जाएगा

मुख्यमंत्री ने क्षेत्र में विभिन्न सड़कों के निर्माण के लिए 1.50 करोड़ रुपये देने की घोषणा की। उन्होंने जसूर-गंगथ-इंदौरा सड़क निर्माण के लिए प्लाहघाट में आधारशिला रखी। इस सड़क का निर्माण 4.52 करोड़ रुपये से होगा, जिससे 15 गांवों के हजारों लोग लाभान्वित होंगे। उन्होंने 34.82 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित की जाने वाली मल्टी विलेजिज पेयजल आपूर्ति योजना का इंदपुर में शिलान्यास किया। इस योजना से इंदौरा क्षेत्र के 80 गांवों को पेयजल सुविधा मिलेगी।

उन्होंने इंदौरा में मिनी सचिवालय तथा इंदौरा से मण्ड मियाणी- पराल सड़क का शिलान्यास भी किया। उन्होंने बाई अटारिया में 70 लाख रुपए की लागत से गौ सदन के स्तरोन्नयन की आधारशिला रखी। उन्हांेने यहां पर बद्रीविशाल मंदिर में पूजा-अर्चना भी की।

स्थानीय विधायक रीता धीमान ने क्षेत्र के विकास को गति प्रदान करने और करोड़ांे रुपये की परियोजनाएं स्वीकृत करने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया।

 

 

घोषणाएं ,,,,,,,,

 

घोषणाएं
सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को स्तरोन्नत कर उसे सिविल अस्पताल का दर्जा देने की बड़ी घोषणा की तो वहीं क्षेत्र के त्यौड़ा पी.एच.सी. को स्तरोन्नत करने व बाड़ी कंदरोड़ी स्कूल में विज्ञान संकाय प्रदान करने की घोषणा की व इंदौरा कॉलेज में एम.एस.सी. की कक्षाएं शुरु करने की भी घोषणा उन्होंने की। उन्होंने इंदपुर – टप्पा – मदोली सड़क के लिए 1 करोड़ रुपये देने की घोषणा की। तो वहीं इंदपुर – थाथ मार्ग के लिए 40 लाख रुपये देने की घोषणा की। ऊधर बडुखर में अनुसूचित जाति – जनजाति कंपोनेंट से वहाँ तंगड़ी पुल बनाने की घोषणा भी मुख्यमंत्री ने की। ठाकुरद्वारा में सब तहसील की मांग को लेकर उन्होंने कहा के फिलहाल राजसव संबंधी नए पटवार सर्कल , तहसीलें बनाने को लेकर 31 मार्च 2021 तक प्रतिबंध है । प्रतिबंध हटते ही ठाकुरद्वारा में सब तहसील बनाने के लिये जरूर बिचार किया जाएगा,,,,,,,,,

 

 

इस मौके पर शहरी विकास मंत्री सरवीन चैधरी, स्वास्थ्य मंत्री विपिन सिंह परमार, ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर, उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह, विधायक राजेश ठाकुर, अरूण कुमार एवं रविन्द्र धीमान, पूर्व विधायक इन्दौरा मनोहर धीमान भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।