हिमाचल प्रदेश सरकार वेटनरी फार्मासिस्टों कि यात्रा शुल्क करे बंद : दिनेश नेगी
February 13th, 2020 | Post by :- | 137 Views

पशुपालन विभाग कर्मचारी महासंघ के प्रदेशाध्यक्ष दिनेश नेगी, महासचिव रवि पाल ठाकुर व राज्य स्तरीय मीडिया प्रभारी हरीश कुमार ने प्रैस के नाम जारी बयान में जयराम ठाकुर मुख्यमंत्री हिमाचल प्रदेश से मांग कि है की हिमाचल प्रदेश में लगे वेटनरी फार्मासिस्ट (पेरा वेटस)का यात्रा शुल्क बंद कर देना चाहिए। उन्होंने कहा कि निदेशक पशुपालन विभाग ने पत्र जिसका क्रमांक संख्या 150/68 दिनांक 11 फरवरी 2020 के अनुसार पशु चिकित्सक द्वारा मनमानी फीस वसूल करने बारे में लिखा गया है, कई बार तो पत्राचार में लूटपाट भाषा तक का प्रयोग किया जाता है जिससे सूबे के वेटरनरी फार्मासिस्ट( पेरा वेटस) का मनोबल गिरा है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश के पशु चिकित्सकों को एन.पी.ए सरकार द्वारा दिया जाता है जब की वेटनरी फार्मासिस्ट को पशुपालकों से यात्रा फीस लेने को कहा जाता है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश में लगे वेटरनरी फार्मासिस्ट (पेरा वेटस) सरकार द्वारा निर्धारित यात्रा शुल्क पर पशु पालको को सेवाएं उपलब्ध करवा रहे हैं।
नेगी ने कहा है कि हिमाचल प्रदेश में लगे वेटनरी फार्मासिस्ट (पेरा वेटस) का यात्रा शुल्क बंद किया जाए, उन्होंने सरकार से मांग की है कि हिमाचल प्रदेश में लगे वेटरनरी फार्मासिस्ट (पेरा वेटस) को सरकार अपने माध्यम से सर्विस आलाउंस देती है तो पशुपालकों को मुफ्त में पशु चिकित्सा सुविधा घर द्वार मिल जाएगी जिससे लाखों पशुपालकों को फायदा मिलेगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।