विधायक असीम गोयल ने बाल भवन में डिजिटल लाइब्रेरी का किया उद्घाटन।
February 13th, 2020 | Post by :- | 98 Views

अम्बाला,अशोक शर्मा

अम्बाला शहर के विधायक असीम गोयल व उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा ने îआज वीरवार को जिला सूचना एवं प्रौद्योगिकी समिति, अम्बाला एवं जिला बाल कल्याण परिषद के तत्वाधान मेें नवनिर्मित डिजिटल पुस्तकालय का बाल भवन परिसर में रिबन काटकर शुभारम्भ किया। यहां पहुंचने पर उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा ने विधायक को पुष्पगुच्छ देकर उनका स्वागत किया।
विधायक असीम गोयल ने जिला प्रशासन द्वारा डिजिटल पुस्तकालय की सौगात देने के लिए उन्हें बधाई दी और कहा कि यह अम्बाला के लिए एक नायाब तोहफा हैं। इस पुस्तकालय के माध्यम से बच्चों को काफी लाभ मिलेगा तथा प्रतिस्पर्धा के इस युग में आगे बढऩे के लिए यह डिजिटल पुस्तकालय काफी कारगर सिद्ध होगा।  शिक्षा को जितना हम ग्रहण करेगें, उतनी ही शिक्षा हमारे पास आयेगी। हमें अपने बच्चों को शिक्षा के लिए पे्ररित करते हुए आगे बढऩे के लिए प्रोत्साहित भी करना चाहिए। उन्होनें कहा कि डिजिटल पुस्तकालय की सुविधा बच्चों को शहर के बीच उपलब्ध हो सकी हैं। यहंा पर कोई भी विद्यार्थी आकर इस लाईबे्ररी के माध्यम से लाभ उठा सकता हैं। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों के लिए पढ़ाई करने के लिए यह एक सुनहरा अवसर व बेहतर प्लेटफार्म हैं। उन्होंने कहा कि इस लाईबे्ररी के नजदीक ही हरियाणा का दूसरा बेहतरीन तारामंडल बनाया जा रहा हैं और इसके बनने के बाद विद्यार्थियों के साथ-साथ अन्य लोगों के लिए भी यह बेहतरीन सौगात होगी।
उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा ने मुख्यअतिथि का स्वागत करते हुए डिजिटल पुस्तकालय की रूपरेखा बारे विस्तार से उपस्थित लोगों को जानकारी दी और विद्यार्थियों के लिए यह एक बेहतरीन सौगात बताई। उन्होंने बताया कि इस लाईब्रेरी में 40 लोगों के बैठने की व्यवस्था है तथा 32 कम्पयूटर संचालित किए गए हैं। इसके साथ-साथ इस डिजिटल पुस्तकालय 10 एमबीपीएस बिना बाधित स्पीड की इंटरनेट सर्विस मिलेगी, ताकि विद्यार्थी बिना किसी विलम्ब के डिजीटल पुस्तकालय द्वारा दी जा रही सुविधाओं का लाभ उठा सकें।
उन्होनें बताया कि यह डिजीटल पुस्तकालय सुबह 9 बजे से 6 बजे तक खुली रहेगी तथा इसके लिए विद्यार्थियों को किसी भी प्रकार की फीस नहीं देनी पड़ेगी। प्रथम चरण में मेम्बर बनाए जाएगें और सिक्योरिटी के तौर पर कुछ फीस ली जाएगी। उसके बाद प्रोप्पर आईडी भी उन्हें दी जाएगी। इस लाईब्रेरी में एक रीडिंग रूम की भी व्यवस्था है ताकि विद्यार्थी इस सुविधा का लाभ भी ले सकें। लाईब्रेरी में सुझाव पेटी भी रखी जाएगी ताकि किसी को कोई सुझाव देना हो तो वह उस पेटी में लिखकर रख सकते हैं। उन्होंने विधायक से बाल भवन के परिसर में प्रीकोचिंग व केरियर कोचिंग की भी व्यवस्था करवाने के लिए भी आग्रह किया ताकि विद्यार्थियों को जीवन में आगे बढऩे के लिए प्रोत्साहित किया जा सकें। उपायुक्त ने इस मौके पर यह भी बताया कि भारत में पहली सबसे बड़ा डिजीटल पुस्तकालय वर्ष 2018 में आईआईटी खडग़पुर में बनाया गया है। इसमें लाखों की संख्या में डिजीटल पुस्तके उपलब्ध हैं। इसी कड़ी में अम्बाला शहर में नवनिर्मित डिजीटल पुस्तकालय में भी लाखों पुस्तकें उपलब्ध करवाने का काम किया जाएगा।  उपायुक्त ने इस अवसर पर यह भी कहा कि अम्बाला शहर में इस लाईब्रेरी के सफलपूर्वक प्रयास को लेकर अम्बाला छावनी में भी इसी तरह की डिजीटल पुस्तकालय की सौगात देने का काम किया जाएगा।
इस मौके पर एडीसी जगदीप ढांडा, एसीयूटी अखिल पिलानी, एसडीएम गौरी मिड्ढा, नगराधीश कपिल शर्मा, एएमसी रोहताश बिश्रोई, डीपीआरओ धर्मवीर सिंह, शिवानी सूद, विजया लक्ष्मी, गिरीश नागपाल, संजीव टोनी, एडवोकेट संदीप सचदेवा, मंदीप राणा, सुरेश सहौता, अनिल गुप्ता, अर्पित अग्रवाल, प्रीतम गिल, अरविन्द सिकरी सहित अन्य गणमान्य लोग मौजूद रहें।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।