जिला पुलिस बद्दी द्वारा नियमों की अवहेलना करने वालों को नहीं बख्शा जाएगा।
February 12th, 2020 | Post by :- | 447 Views

बीबीएन 12 फरवरी|| ललित वर्मा /राज  कश्यप

 

जिला पुलिस बद्दी के अंतर्गत आते थाने बद्दी , बरोटीवाला और नालागढ़ में  ट्रैफिक नियमों की अवहेलना करने वालों के खिलाफ पुलिस कड़क रुख अपना रही है। ताकि बीवीएन में ट्रैफिक नियमों को सख्ती से लागू किया जा सके।

पुलिस तो अपने कार्य को निष्ठा और ईमानदारी से निभा रही है। परंतु कुछ लोग अभी भी ट्रैफिक नियमों की अनदेखी करते पाए जा रहे हैं। इसी कारण जिला पुलिस बद्दी के अंतर्गत आते सभी पुलिस स्टेशनों ने  ट्रैफिक नियमों की अवहेलना करने वालों को चालान कर रही है। ताकि लोगों को ट्रैफिक नियमों के प्रति सजग किया जा सके।

इसी अंतर्गत बद्दी ट्रैफिक पुलिस द्वारा बीते जनवरी माह में 2141 ई चालान किए गए ,103 शराब पीकर गाड़ी चलाने वाले लोगों के चालान किए गए , वहीं 786 नो पार्किंग चालान करके 413300 रुपए का कुल जुर्माना वसूल किया गया।

वहीं ट्रैफिक इंचार्ज नालागढ रमेश कुमार ने बताया कि नालागढ़ ट्रैफिक पुलिस द्वारा 1546 e-challan , 46 शराब पीकर गाड़ी चलाने वालों लोगों का चालान,  439 नो पार्किंग चालान मिलाकर 196500 रुपए कुल जमाना वसूला गया।

वहीं बरोटीवाला पुलिस द्वारा 1084 e-challan 49 लोगों का शराब पीकर गाड़ी चलाते हुए पकड़े जाने पर चालान करके 174800 रुपए का कुल जुर्माना वसूल किया गया।

बद्दी , बरोटीवाला और नालागढ़ के ट्रैफिक इंचार्जो से जब बात हुई तो उन्होंने बताया कि जिला पुलिस बददी बीबीन में ट्रैफिक व्यवस्था को सुदृढ़ करने के लिए लगातार पुलिस प्रयासरत है और ट्रैफिक नियमों की अवहेलना करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा|

उन्होंने बताया कि ट्रैफिक पुलिस के एक विशेष अभियान के तहत बुलेट मोटरसाइकिल द्वारा पटाखे जैसी आवाज पैदा करने वाले मोटरसाइकिल वालों का चालान भी कर रही है। अगर कोई मकैनिक भी बुलेट का साइलेंसर आदि बदलने का दोषी पाया जाता है तो उस पर भी कार्रवाई की जाएगी। क्योंकि ट्रैफिक पुलिस को लगातार बुलेट मोटरसाइकिल वालों की शिकायतें मिल रही थी। इसी के तहत इस विशेष कार्रवाई को शुरू किया गया है।
जिला पुलिस बद्दी सभी से अनुरोध करती है कि यातायात नियमों का पालन करें व सुरक्षित रहें।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।