भदरोया में नशे के तस्करो को पनाह देने के मामले में भदरोया पंचायत की मोजूदा पंचायत प्रधान का पति गिरफ्तार
February 10th, 2020 | Post by :- | 255 Views

लोकहित एक्सप्रेस(व्यूरो कांगड़ा)

डमटाल पुलिस ने नशे के अवैध कारोबार करने वालो पर कड़ी कार्रवाई करते हुए डमटाल थानां में दर्ज हुए एनडीपीएस एक्ट के मामले में भदरोया पंचायत की प्रधान का पति सुरेश कुमार उर्फ माउं को डमटाल पुलिस ने सोमवार को गिरफ्तार किया है। आरोप।है कि मौजूदा पंचायत की प्रधान का पति अपनी भूमि पर नशे के अवैध कारोबारियों को पनाह दी हई थी ओर उस भूमि पर रहकर नशे के तस्कर घर बनाकर नशे के तस्करो द्वारा इस अवैध कारोबार को अंजाम दिया जा रहा था।

गौरतलब है कि करीब दो माह पहले कर्ण कुमार उर्फ चिड़ी वासी भदरोया को डमटाल पुलिस ने चिट्टे ओर नशीले पाउडर की खेप सहित गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की थी ओर जमानत पर छूट जाने के बाद पकड़े गए नशीले पाउडर की लेबोरटरी से जांच रिपोर्ट आने के बाद आरोपी अपने घर से फरार हो गया जो अभी तक केस के मामले में डमटाल पुलिस थाना में वांछित है ।

डीएसपी नुरपुर डॉ साहिल अरोड़ा ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि मौजूदा भदरोया पँचायत की प्रधान का पति सुरेश कुमार उर्फ माउ जिसने आरोपी कर्ण कुमार को अपनी भूमि पर पनाह दी हुई थी जहाँ पर आरोपी कर्ण कुमार घर बनाकर नशे के अवैध कारोबार को अंजाम दे रहा था ओर पँजाब ओर हिमाचल दोनों जगहों पर आरोपी के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत मामले दर्ज है ।

प्रधान के पति सुरेश कुमार को अपनी भूमि पर नशीले अवैध कारोबार चलाने पर डमटाल पुलिस ने एनडीपीएस एक्ट के तहत प्रधान के पति को आरोपी बनाया है आरोपी को डीएसपी साहिल अरोड़ा ने डमटाल पुलिस के साथ उसके घर मे दबिश देते हुए सोमवार तड़के गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है। जिसे आज ढांगूपीर चौकी में बंद हबालात किया है और कल रिमांड हेतु कोर्ट में पेश किया जाएगा

एसपी कंगड़ा विमुक्त रंजन ने बताया कि एनडीपीएस एक्ट के यदि कोई व्यक्ति अपनी भूमि पर किसी नशे के अवैध कारोबारी को पनाह देता है तो एनडीपीएस एक्ट के तहत उस भूमि मालिक पर एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज किया जा सकता है

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।