जमीनी स्तर पर किसानों की आवाज बुलंद कर रहे किसान नेता रमेश दलाल
August 29th, 2019 | Post by :- | 112 Views

बहादुरगढ़ लोकहित एक्सप्रेस ब्यूरो चीफ (गौरव शर्मा)

महागठबंधन की मुहीम को आगे बढ़ाने के लिए किसानो व् खापों ने कसी कमर।

लम्बे समय से बहादुरगढ़ ब्लॉक की आर जोन घोषणा, राष्ट्रिय राजमार्ग 152 डी व् 352 ऐ के निर्माण में ज़मीन अधिग्रहण का उचित मुआवज़ा, फसल के न्यूनतम समर्थन मूल्य में बढ़ोतरी, एस.वाई.एल नहर का पानी आदि मांगो को लेकर किसान नेता रमेश दलाल के नेतृत्व में धरने पर बैठे किसानो ने अब आगामी विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा सरकार को घेरने के लिए विपक्ष को संगठित करने की मुहीम तो तेज़ कर दिया है। गौरतलब है कि बीते सोमवार रमेश दलाल व कुछ अन्य खाप प्रतिनिधि इस सिलसिले में भूपेंद्र सिंह हुड्डा, अजय चौटाला से मिले थे। रमेश दलाल का कहना है कि सोमवार को इन नेताओ से हुई वार्ता सकारात्मक रही।

पूरे प्रदेश में किसान न्याय यात्रा निकाल कर वापिस लौटे रमेश दलाल ने बताया इस मुहीम में खापें एहम भूमिका निभा रही है तथा शनिवार को पूरे दहिया खाप की एक महत्वपूर्ण पंचायत इस सिलसिले में होनी तय हुई है। यह फैसला मंगलवार को नाहरा चौबीसी की हुई पंचायत में लिया गया था। सारा विवरण रमेश दलाल ने दिल्ली-भटिंडा रेलवे लाइन के पास आसौदा गाँव में धरने पर बैठे किसानो को संबोधित करते हुए दिया। रमेश दलाल का कहना है कि जहाँ एक तरफ विपक्षी नेताओ से मिल कर महागठबंधन को लेकर सहमति बनाई जा रही है वही विभिन्न खापों को भी एक जुट किया जा रहा है।  भाजपा सरकार पर तानाशाही रवैये का आरोप लगाते हुए रमेश दलाल ने कहा कि जिस प्रकार सरकार ने किसानों की जायज़ मांगो को नज़रअंदाज़ किया है, उस से यह स्पष्ट है कि भाजपा को सत्ता से हटाकर ही किसानो की न्यायपूर्ण जीत होगी। रमेश दलाल ने स्पष्ट किया कि किसान आंदोलन व् खापे पूर्णतः गैर-राजनीतिक है, लेकिन साथ ही मज़बूत विपक्ष लोकतंत्र का अभिन्न अंग है तथा किसानो व् खापों का मानना है कि हरियाणा प्रदेश का मुख्यमंत्री किसान हितैषी होना चाहिए। आसौदा गाँव में चल रहे धरने की स्थिति के बारे में पोछे जाने पर रमेश दलाल ने बताया की धरना यथावत चालू रहेगा।

गुरुवार को धरने की अध्यक्षता चौ. भूप सिंह दलाल प्रधान दलाल खाप चौरासी ने कि तथा धरनास्थल पर मुख्य रूप से आसौदा गाँव से पूर्ण व् दयानंद, भगत सिंह शास्त्री जसौर खेड़ी, कृष्ण मांडौठी, जोनी राठी आदि मौजूद रहे।

फोटो कैप्शन: धरनास्थल पर संबोधित करते किसान नेता रमेश दलाल।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।