जयपुर-अलवर में बारिश के बाद गर्मी से मिली राहत, मौसम विभाग ने 13 शहरों में जारी की चेतावनी
August 29th, 2019 | Post by :- | 65 Views

जयपुर,(सुरेन्द्र कुमार सोनी) । गुरुवार को प्रदेश के कई हिस्सों में रुक-रुककर बारिश का दौर जारी रहा। जयपुर अलवर और आसपास के इलाकों में भी बारिश दर्ज की गई। वहीं कोटा चित्तौड़गढ़ में भी तीन दिन से बारिश का दौर जारी है। जिसके चलते कोटा बैराज के गेट भी खोले गए। मौसम विभाग ने माने तो अगले 24 घंटे पूर्वी राजस्थान के 11 जिलों तथा पश्चिमी राजस्थान के दो जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। इससे पहले बुधवार को चित्तौड़गढ़ में सबसे ज्यादा 78.0 एमएम बारिश रिकॉर्ड की गई। मौसम विभाग ने बांसवाड़ा बारां भीलवाड़ा बूंदी डुंगरपुर झालावाड़ कोटा प्रतापगढ़ राजसमंद सिरोही उदयपुर, बाड़मेर व जालोर में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। इन सभी इलाकों में अगले दो दिन तेज बारिश की संभावना जताई गई है।
पिछले 24 घंटों मे यहां बरसे बादल
अजमेर में 1.7 भीलवाड़ा में 18.8 वनस्थली में 9.0 जयपुर में 3.8 कोटा में 13.2 सवाईमाधोपुर में 12.0 चित्तौड़गढ़ में 78.0 डबोक में 10.2 बाड़मेर में 7.4 जैसलमेर में 19.3 जोधपुर में 63.9 माउंट आबू में 6.0 फालौदी में 53.8 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई।
19 बांध भरे गंभीरी नदी में इसलिए भी बढ़ रहा पानी:
चित्तौड़गढ़ जिले में कुल 19 बांध भर चुके हैं। इसमें 20 बड़े बांधों में से छह और 23 छोटे बांधों में से 13 बांध हैं। अब बाडी बांध भी पांच मीटर क्षमता से 75 सेमी ही खाली रहा है। छलकने पर इसका पानी भी गंभीरी बांध में जाएगा। मुरलिया बांध का पानी बाहर से ही गंभीरी नदी में आ रहा है। गंभीरी व घोसुंडा बांध के छलकने के अलावा ओराई बांध पर 7 इंच बस्सी बांध पर 15 सेमी मुरलिया बांध पर चार इंच चादर चल रही। खाड़ी से उठा कम दबाव का क्षेत्र राजस्थान पहुंचा। बंगाल की खाड़ी में तीन दिन पहले एक कम दबाव का क्षेत्र बना था। यह कम दबाव का क्षेत्र उड़ीसा छत्तीसगढ़ व मध्यप्रदेश होते हुए राजस्थान की तरफ बढ़ रहा था।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।