जिला स्तरीय क्रीडा प्रतियोगिता ’’लयांग-लयोर करसाना पण्डुम’’ भानुप्रतापपुर में 07 से 09 फरवरी तक
February 4th, 2020 | Post by :- | 176 Views

छत्तीसगढ़(कांकेर) टोकेश्वर साहू / तहसील मुख्यालय भानुप्रतापपुर में जिला स्तरीय क्रीडा प्रतियोगिता ’’लयांग-लयोर करसाना़ पण्डुम’’ का आयोजन 07 से 09 फरवरी तक आयोजित किया जाएगा।
जिसमें हाई स्कूल, हायर सेकेण्डरी व काॅलेज स्तर के छात्र-छात्राएं अपनी खेल प्रतिभा का प्रदर्शन करेंगे।
इस खेल प्रतियोगिता में- दौड़ 100 मीटर, 200मीटर, 400मीटर, 800मीटर, रिलेरेस, तवा फेंक, गोला फेंक, लम्बी कूद, ऊंची कूद, तिरदाजी, एथलैटिकस, वाॅलीबाल, खो-खो, निबंध, चित्रकला, वाद-विवाद इत्यादि खेल-कूद प्रतियोगिता के अलावा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रहसन, एकल नृत्य, सामूूहिक नृत्य इत्यादि प्रस्तुत किये जायेंगे। कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए किए जा रहे तैयारियों एवं प्रतियोगी छात्र-छात्राओं के आवास व भोजन इत्यादि की व्यवस्था के संबंध में क्षेत्रीय विधायक एवं छत्तीसगढ़ विधानसभा के उपाध्यक्ष श्री मनोज सिंह मण्डावी की अध्यक्षता एवं नगर पंचायत भानुप्रतापपुर के अध्यक्ष सुनील बबला पाढ़ी, कलेक्टर श्री के.एल.चौहान, पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डाॅ. संजय कन्नौजे की उपस्थिति में जिला अधिकारियों की बैठक भानुप्रतापपुर में आयोजित की गई। जिसमें विधानसभा के उपाध्यक्ष श्री मनोज सिंह मण्डावी द्वारा आवश्यक दिशा निर्देश अधिकारियों को दिये गये।
बैठक पश्चात उन्होंने खेल मैदान का भी अवलोकन किया तथा खेल सामग्री एवं अन्य व्यवस्थाओं के संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश अधिकारियों को दिये। इस अवसर पर वन मण्डलाधिकारी पश्चिम वन मण्डल भानुप्रतापपुर आर.सी मेश्राम, एसडीएम भानुप्रतापपुर सुश्री प्रेमलता मण्डावी, आदिवासी विकास विभाग के उपायुक्त विवेक दलेला, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. जे.एल. उईके, जिला शिक्षा अधिकारी अर्जुन मेश्राम, लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन अभियंता के.पी. संत, प्रधान मंत्री ग्राम सड़क योजना के कार्यपालन अभियंता धन्नजय देवांगन, सहित सभी जनपदों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी, विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी उपस्थित थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।