राष्ट्रीय संगोष्ठी में हिमाचल के शिक्षकों की धमाल
February 4th, 2020 | Post by :- | 915 Views

लोकहित एक्स्प्रेस(हिमाचल):-अमृतसर में देश भर के शिक्षकों के समक्ष प्रस्तुत किए विद्यालय प्रबंधन पर नवाचार । हिमाचल केे 20 शिक्षक ने दिखाया दम । सुनील धीमान काँगड़ा नीरज रमौल सिरमौर सचिन सूद कुल्लू युद्दवीर चम्बा जीवन चम्बा मीना शर्मा बिलासपुर मन्जुला मण्डी लत्ता कुल्लू और भी परम जीत बालकृष्ण दीप कुमार अवनीश बिलासपुर कैलाश सोलन नर्बदा भारती बैहल सुनीता मण्डी और रीता वाला नेगी किनौर से थे शामिल।
नवोदय क्रांति परिवार भारत की पंजाब राज्य के अमृतसर स्थित नेशनल अकाडमी ऑफ फाइन आर्ट्स में चल रही दूसरी वार्षिक संगोष्ठी का आगाज़ हिमाचल प्रदेश के जिला चंबा से संबंध रखने वाले नवाचारी शिक्षक युद्धवीर टंडन की विद्यालय प्रबंधन पर आधारित प्रस्तुति से हुआ। इस प्रस्तुति में उन्होंने अपने विद्यालय प्रबंधन से जुड़ने वालों तथा बच्चों द्वारा निर्मित बाल समाचार पत्रिका ‘नन्हे उस्ताद’ की विस्तार से चर्चा की। बाल संसद के गठन व सफल संचालन में आने वाली व्यवहारिक समस्याओं पर प्रस्तुति दी। बच्चों द्वारा संविधान दिवस के अवसर पर बनाया गया स्वनिर्मित बाल संविधान सभी के लिए आकर्षण का केंद्र रहा। तीन दिवसीय संगोष्टी का मुख्य उद्देश्य देश की सरकारी शिक्षा को बेहतर से भी बेहतर बनाना है। शिक्षक युद्धवीर टंडन नवोदय क्रांति के नेशनल मोटिवेटर व हिमाचल प्रांत संयोजक हैं। उन्हें नवोदय क्रांति परिवार ने संगोष्ठी में बतौर गेस्ट आमंत्रित किया है। शिक्षक टंडन अपने विद्यालय में भी नवाचारी शिक्षण गतिविधियों के संचालन हेतु जाने जाते हैं। उन्हें इन गतिविधियों के लिए राज्य सरकार हिमाचल द्वारा राज्य स्तरीय शिक्षक पुरस्कार से सम्मानित किया है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।