कोरोना वायरस के लक्षण एवं बचाव के उपाय
February 1st, 2020 | Post by :- | 234 Views

छत्तीसगढ़ / कांकेर, ( टोकेश्वर साहू )  ।  विश्व स्वास्थ्य संगठन के द्वारा नोवेल कोरोना वायरस को वैश्विक स्तर पर एक जन स्वास्थ्य आपातकाल (पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी) घोषित किया गया है।

भारत सरकार व राज्य सरकार के द्वारा कोरोना वायरस के संभावित प्रकोप से निपटने हेतु दिशा-निर्देश जारी किया गया है, जिसे देखते हुये स्वास्थ्य विभाग जिला उत्तर बस्तर कांकेर के द्वारा संभावित प्रकोप से निपटने हेतु उचित सर्वेेक्षण जांच एवं उपचार तंत्र को पुनः सक्रिय किया गया है, जिसके तहत मैदानी स्तर पर कार्यरत चिकित्सा अधिकारी व स्वास्थ्य अमले को नोवेल कोरोना वायरस के संबंध में जारी दिशा – निर्देश से अवगत कराया गया है तथा किसी भी प्रकार के चिकित्सकीय आपातकाल से निपटने हेतु सजग किया गया है । तथा जिला स्तर पर रेपिड रिस्पांस टीम का गठन किया गया है जिसमें चिकित्सा अधिकारी के साथ-साथ पशु चिकित्सा अधिकारी भी सम्मिलित हैं।

नोवेल कोरोना वायरस से संबंधित लक्षण प्राप्त होने पर सूचना तत्काल जिला स्तरीय कंट्रोल रूम के दूरभाष क्रमांक 07868-224610 व जिला सर्वेलेंस अधिकारी डाॅ. डी.के. रामटेके के मोबाईल नंम्बर- 9131784926 में देने हेतु निर्देशित किया गया है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. जे.एल. उईके ने इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि 2019 नोवेल कोरोना वायरस एक नया वायरस (विषाणु) है, जो पहली बार चीन की हुबेई प्रांत के वुहान शहर में पाया गया है। इसे नोवेल या नया इसलिये कहा गया है क्योंकि इसकी पहचान पहले कभी नहीं की गयी थी।

कोरोना वायरस विषाणुओं का एक बड़ा वंश है, जिसमें से कुछ इंसानों को रोगग्रस्त करते हैं। और कुछ पशुओं में घर करते हैं, विषाणुओं का स्त्रोत पशु हो सकते हैं। डाॅ. उईके ने बताया कि अब तक 2019 नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण के स्त्रोत की पहचान नहीं की जा सकी है, 2019 कोरोना वायरस इन्फेकशन का अभी तक कोई उपचार नहीं है। अभी तक इससे संक्रमित लोगों को रोग के लक्षण कम करने के लिये उपचार प्रदाय किया जाता है।

कोरोना वायरस के लक्षण:-
अभी तक 2019 नाॅवेल कोरोना वायरस के जो लक्षण पाए गए हैं, उनमें तीव्र बुखार, खांसी-जुकाम और सांस लेने में परेशानी होती है। अगर इनमें से कोई भी लक्षण हो तो नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र में जांच व उपचार करवायें तथा जिस संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आप आये हो, उसकी जानकारी समीप के स्वास्थ्य कर्मियों को देवें।

कोरोना वायरस से बचाव:-
कोरोना वायरस के बचाव के संबंध में जानकारी देते हुए डाॅ. उईके ने कहा कि व्यक्तिगत स्वच्छता पर ध्यान दें, खुद के स्वास्थ्य की निगरानी करें, साबुन से बार-बार हाथ धोएं, खांसते व छिंकते समय मुंह को ढंक लें तथा अस्वस्थ होने पर चिकित्सक की सलाह लें और अगर यात्रा के दौरान आपकी तबियत खराब हो जाए तो विमान दल को सूचित करें एवं मास्क पहन लें।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।