विधेयक 2020 नामक बिल को स्वीकृति प्रदान करने पर अवाम ने जताया मुख्यमंत्री का आभार
February 1st, 2020 | Post by :- | 157 Views

कालका, ( हरपाल सिंह )  ।    डॉ अंबेडकर वाल्मीकि अधिकार मंच (अवाम) ने माननीय मुख्यमंत्री मनोहर लाल का हरियणा अनुसूचित जाति (शैक्षणिक संस्थानों में प्रवेश में आरक्षण) विधेयक 2020 नामक बिल को स्वीकृति प्रदान करने पर हरियाणा के अनुसूचित जाति वर्ग ए के लोगो की और से आभार व्यक्त किया ज्ञात रहे वर्ष 2006 से कांग्रेस के कार्यकाल में इस आरक्षण वर्गीकरण को एक साजिश के तहत समाप्त कर दिया गया था जिस कारण हरियाणा के अनुसूचित जाति वर्ग ए के लोग 2006 से आज तक यानी 14 वर्षो तक शिक्षा व रोजगार में आरक्षण वर्गीकरण के लाभ से वंचित रहे जिस कारण वर्ग ए के लोग वर्ग बी से काफी पिछड़ गये।

इस आरक्षण वर्गीकरण के लिए आवाम ने पिछले काफी लम्बे समय से आन्दोलन छेड़ रखा था इस आन्दोलन को सफल बनाने में अवाम की कोर कमेटी के वरिस्ठ सदस्य समाजशास्त्री दिनेश वाल्मीकि, अवाम के प्रवक्ता एडवोकेट राकेश करोतिया, राम मेहर चौहान, दिल्बाग चौहान, सेवानिवृत आईएफएस बनारसी दास, एडवोकेट राज गौरी, अमित महरौलीया, गोल्डी वाल्मीकि की भूमिका अति महत्वपूर्ण रही। अवाम के प्रवक्ता एडवोकेट राकेश करोतिया ने बताया कि हमारी मांग शिक्षा और रोजगार मे आरक्षण वर्गीकरण की बहाली थी।

मुख्यमंत्री ने अभी सिर्फ शिक्षा में आरक्षण वर्गीकरण को मंजूरी दी है जबकी इस वर्ग को रोजगार में इस आरक्षण वर्गीकरण की नितांत आवश्यकता है जिस कारण आज यह वर्ग आर्थिक व शिक्षा में पीछड़ता जा रहा हैं जिसे मुख्यधारा में लाने के लिए शिक्षा व रोजगार में आरक्षण वर्गीकरण अति आवश्यक है। अवाम अनुसूचित जाति वर्ग ए के लोगों के प्रति वचनबध भविष्य में जल्द ही रोजगार मे आरक्षण वर्गीकरण को लागू करवा कर रहेगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।