मुख्यमंत्री शहरी कार्यात्मक साक्षरता कार्यक्रम के तहत एक ही परिवार के तीन देवरानी-जेठानी एवं दो बेटियों ने ऑनलाईन बाह्य मूल्यांकन परीक्षा में हुये सम्मिलित
January 31st, 2020 | Post by :- | 151 Views

छत्तीसगढ़(कांकेर) टोकेश्वर साहू / कलेक्टर श्री के.एल. चौहान एवं जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डाॅ. संजय कन्नौजे के कुशल मार्गदर्शन में ’’मुख्यमंत्री शहरी कार्यात्मक साक्षरता कार्यक्रम’’ के तहत् ई-साक्षरता केन्द्र कांकेर में 8वां और 9वां बैच का आॅनलाईन बाह्य मूल्यांकन शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कांकेर में आयोजित किया गया।

छत्तीसगढ़ शासन द्वारा संचालित मुख्यमंत्री शहरी कार्यात्मक साक्षरता कार्यक्रम अंतर्गत 8वां बैच में 25 शिक्षार्थी एवं 9 वां बैच में 25 शिक्षार्थी इस प्रकार 50 शिक्षार्थी सम्मिलित हुये, जिसमें 49 शिक्षार्थी सफल हुये। साक्षरता कार्यक्रम के तहत् अब बुजुर्ग माताओं, बहनों और कमजोर वंचित वर्ग के कम पढ़े लिखे व्यक्तियों को डिजीटल साक्षर करने की जिम्मेदारी राज्य साक्षरता मिशन ने उठाई है। बुजुर्ग मातायें भी वाट्सप और मोबाईल चलायेंगे।

मुख्यमंत्री शहरी डिजीटल साक्षरता कार्यक्रम के तहत डिजीटल शिक्षा दी जा रही है। पूरे देश में इस तरह की पहली नवाचार योजना है जिसके तहत राज्य के वंचित वर्गाें के लिये 14 से 60 वर्ष तक की महिलाओं और पुरूषों को इंटरनेट कम्प्यूटर के संचालन के साथ-साथ उपयोगी सेवाओं के बिलों का भुगतान, ई-मेल, सोशल मीडिया के आलावा रोजमर्रा के कार्यों को सूचना प्रौद्योगिकी के जरिये आसान तरीके से करने के लिये प्रशिक्षण देकर लाभान्वित भी किया जा रहा है।
उल्लेखनीय है कि ‘‘मुख्यमंत्री शहरी कार्यात्मक साक्षरता कार्यक्रम’’ अंतर्गत ई-साक्षरता केन्द्र में अध्ययनरत शिक्षार्थियों को केन्द्र व राज्य शासन की विभिन्न योजनाओं से लाभन्वित करने के लिए समय पर प्रशिक्षकों एवं स्त्रोत व्यक्तियों के द्वारा डिजीटल साक्षरता, व्यक्तित्व विकास, श्रेष्ठ पालकत्व, आत्मरक्षा, वित्तीय, विधिक और चुनावी साक्षरता, कौशल विकास, जीवन मूल्य एवं नागरिक कर्तव्य पर प्रशिक्षण दिया जाता है। इस परीक्षा का आयोजन राज्य साक्षरता मिशन प्राधिकरण छत्तीसगढ़ रायपुर द्वारा छत्तीसगढ़ इन्फोटेक प्रमोशन सोसायटी (चिप्स) के माध्यम से किया जाता है। कार्यक्रम में मुख्य रूप से जिला परियोजना अधिकारी श्री आनन्द कुमार गुप्ता, केन्द्र प्रभारी श्री राघेवन्द्र कंचन एवं श्री लीलाराम धु्रव उपस्थित थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।