शहर की पटिटयेां में लगे गंदगी के ढेर, लोग नारकीय जीवन जीने को विवश
January 31st, 2020 | Post by :- | 87 Views
होडल,  ( मधुसूदन )    ।     नगर परिषद में तैनात सफाईकर्मियों की लापरवाही के चलते पटिटयों के लोग नारकीय जीवन जीने को विवश हंै। शहर में अधिकांश चौराहों,कालोनियों,बाजारों व अन्य स्थानों पर गंदगी के ढेर लगे हुए हैं। जिसके कारण नालियां व सीवरेज व्यवस्था भी ठप हुई पडी है। नालियां पालीथिनों और कीचड से अटी पडी हैं।
सडक किनारे कूढे के ढेर लगे हुए हैं। कई कई दिनों तक जब नालियों की सफाई नही होती है तो नालियां भ्ी ओवर फिलो हो जाती हैं जिनका गंदा पानी घरों के बाहर रास्तों में भरा रहता है। वैसे तो कालोनियों व पटिटयों के अलावा सरकारी कार्यालयों के बाहर भी कई कई दिनों तक सफाई नहीं होती है अगर सफाईकर्मी सफाई कर भी जाते हैं वह निकाली गई गंदगी को उठाना ही भूल जाते हैं, जिसके कारण उक्त गंदगी और कीचड दोवारा से नालियों में पहुंच जाती है। शहर में चारों तरफ गंदगी के अम्बार लगे हैं। यही हाल बाल्मीकि बस्ती से रोहता पटटी जाने वाले सडक मार्ग का है। यहां के निवासियों का कहना है कि सफाई कर्मियों द्वारा पिछले दो सप्ताह पहले यहां की नालियों से जेसीबी मशीन के माध्यम से गंदगी की सफाई तो करा दी गई लेकिन कर्मचारी यहां से निकली गंदगी को उठाना ही भूल गए, जिसके कारण उक्त गंदगी अब वाहनों के साथ चिपककर दूर तक पहुंच रही है। जिसके कारण यहां से पैदल निकलना भी दूभर हो रहा है। वार्ड निवासी
योगेश,हितेश,नवीन,रवि,सोनू,हरीश,पवन,कारे आदि का कहना था कि इस समस्या को लेकर वार्ड के लोग कई बार पार्षद से लेकर परिषद के अधिकारियों से मिल चुके हैं। काफी मिन्नत के बाद विभागीय अधिकारियों ने जेसीबी मशीन के माध्यम से नालियों की सफाई तो करा दी गई, लेकिन सफाईकर्मी यहां से गंदगी और कीचड को उठाना ही भूल गए। जिसके कारण लोगों को परेशानियों का सामना करना पड रहा है। यहां जगह जगह गंदगी के ढेर लगे हुए हैं। मामले की शिकायत के लिए कभी लघु सचिवालय में तो कभी पुरानी नगर पालिका कार्यालय में चक्कर काटने को मजबूर होना पड रहा है। सडक मार्ग पर कीचड और गंदे पानी के कारण लोग दुघर्टना का शिकार हो रहे हैं। शिकायत के बाद भी कोई सुनवाई नहीं हो रही है। उधर इस बारे मेंं नगर परिषद की अध्यक्षा आशारानी तायल का कहना है कि अगर सफाईकर्मियों द्वारा निकाली गई गंदगी को उठाया नहीं गया है तो वह इस मामले में पूछताछ करेंगी। नालियों से निकाली गई गंदगी और कीचड को शीघ्र ही उठवाया जाएगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।