श्रीगंगानगर सरपँच प्रत्याशी के कार्यक्रम में गये बच्चों के शव डिग्गी में मिलने से सनसनी।।
January 29th, 2020 | Post by :- | 89 Views

श्रीगंगानगर, ( सतनाम मांगट )   ।      राजस्थान के श्रीगंगानगर के निकटवर्ती गांव कालियां में मंगलवार सुबह दिल दिहला देने वाली खबर सामने आई। साेमवार शाम से लापता नायक समाज के दाे बालकाें के वाटर वर्क्स की डिग्गी के पास कपड़े मिले।

इससे उत्पन्न संदेह के आधार पर डिग्गी में तलाश शुरू हुई। उस समय हंगामा अाैर काेहराम मच गया जब एक के बाद एक दाेनो मासूम बच्चाें के शव बाहर निकाले गए। माैके पर पहुंची सदर पुलिस ने शवाें काे जिला अस्पताल की माेर्चरी पहुंचाया। दाेपहर काे पाेस्टमार्टम की प्रक्रिया शुरू हुई। शाम काे शव परिजनाें काे साैंप दिए। इस हादसे से गांव के अाक्राेशित लाेगाें ने बच्चाें की माैत के पीछे किसी साजिश का संदेह जताते हुए पहले जिला अस्पताल अाैर बाद में एसपी अाॅफिस के बाहर प्रदर्शन किया।पुलिस ने समझाइश कर लाेगाें काे वापस भेजा। सदर पुलिस ने कालियां के वार्ड 15 निवासी शंकरलाल नायक की रिपाेर्ट पर अज्ञात पर हत्या के संदेह में मुकदमा दर्ज किया है।

सदर थाना के एसएचअाे राजेश सिहाग ने बताया कि कालियां गांव निवासी दस वर्षीय संदीप पुत्र भगवानाराम नायक अाैर 6 वर्षीय दीपू उर्फ दीपक पुत्र भंवरलाल नायक के शव गांव के वार्टर वर्क्स की डिग्गी से बरामद किए गए हैं। दाेनाें बालक पड़ाेसी हैं अाैर साेमवार शाम काे घर से खेलने के लिए निकले थे। देर शाम तक घर नहीं लाैटे ताे गुमशुदगी की रिपाेर्ट दी गई। मंगलवार सुबह ही लाेगाें काे एक बच्चे के पहने हुए कपड़े अाैर जूते डिग्गी के पास मिले। इस पर पुलिस, नागरिक सुरक्षा विभाग की टीम माैके पर पहुंची अाैर डिग्गी से बच्चाें के शव बाहर निकाले गए।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।