सेंट विवेकानंद मिलेनियम स्कूल में धूमधाम से मनाया गया गणतंत्र दिवस
January 28th, 2020 | Post by :- | 57 Views

कालका, (हरपाल सिंह) :
सेंट विवेकानंद मिलेनियम स्कूल के छात्रों व अध्यापकों ने 71वें गणतंत्र दिवस में बढ़ चढक़र भाग लिया। सर्वप्रथम विद्यालय परिसर में प्राचार्य व छात्रा खुशी दीवान द्वारा सभी की उपस्थिति में ध्वजारोहण किया गया। ‘बेटी बचाओ , बेटी बढ़ाओ’ अभियान के तहत विद्यालय प्रबंधन ने लान टेनिस की खिलाड़ी कक्षा 11वीं की खुशी दीवान को ट्राईसिटी में खेलों में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए सम्मानित भी किया। वर्तमान में खुशी वर्ग-16 में आल इंडिया टेनिस रेंकिंग में 208वें स्थान पर हैं। खुशी को विभिन्न खेलों में 35 स्वर्ण पदक,19 रजत पदक और 8 कांस्य पदक व हरमन ङ्गढ्ढ टीम में भी शामिल होने का गौरव प्राप्त हुआ है । साथ ही में नीलगिरि सदन के तनिष्क ने गणतंत्र दिवस की महत्ता पर प्रकाश डाला। इसी समय नन्हीं नन्हीं बालिकाओं के देशप्रेम से ओत-प्रोत गीत ने सभी के लहु में उफान भर दिया। कालका समारोह में विद्यालय के छात्रों की अनुशासित मार्चपास्ट व ऊर्जावान फिट इंडिया डांस ने सभी दर्शकों को हतप्रभ किया। इस समारोह में विद्यालय की अध्यापिका श्रीमती उर्वशी टिक्कू को शिक्षा के क्षेत्र में,श्रीमती गीताजंली शर्मा को प्रशासनिक कार्यों व श्री रंजीत कुमार (चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी) को अपने-अपने विशिष्ट क्षेत्रों में उत्कृष्ट योगदान के लिए सम्मानित किया गया। साथ ही में छात्र बुधराम(खेल क्षेत्र),महक मेहरा (खेल)व यशिका(नृत्य कला)में उत्तम प्रदर्शन हेतु सम्मानित किया गया। इसी के साथ पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट, चंडीगढ़ के समारोह में विद्यालय छात्र समूह के समूह गान की प्रस्तुति ने सभी को देशभक्ति भाव से उल्लसित किया । इन सभी बच्चों की मुख्यान्यायधीश श्री रवि शंकर झा जी ने प्रशंसनीय सराहना की। इसके अतिरिक्त छात्रों की एच एम टी परिसर में आयोजित समारोह में उमंग और मातृप्रेम से ओत-प्रोत समूह गान, नृत्य व राष्ट्रगान की श्री एस पी शर्मा जी टी एम एच एम टी लिमिटेड ने भूरि-भूरि प्रशंसा की। प्राचार्य पीयूष पुंज ने सभी विजेताओं को बधाई दी। हम सभी अपने-अपने कार्यों में कटिबद्धता व् सत्यनिष्ठा दर्शाते हुए अपने देश के प्रति इसी प्रकार समर्पित रहें ।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।