मण्डी जिला के उपमंडल सुन्दरनगर अस्पताल में नेत्र रोगयों को मिलेगी फैको ऑप्रेशन सुविधा
January 28th, 2020 | Post by :- | 156 Views

सुन्दरनगर (मंडी):-(दिलाराम भारद्वाज ब्यूरो ‘ चीफ)सुन्दरनगर अस्पताल में अब अत्याधुनिक मशीनों के जरिए नेत्र रोगों का उपचार होगा। अस्पताल में नेत्र रोगियों के बेहतर उपचार के लिए फैको मशीन लगाई गई है जिससे मोतियाबिंद, ग्लूकोमा जैसे ऑप्रेशन आधुनिक विधि से किए जा सकेंगे। स्थानीय विधायक राकेश जम्वाल ने सोमवार को सुन्दरनगर अस्पताल में 11 लाख रूपए की लागत से लगाई गई फैको मशीन का विधिवत शुभारम्भ किया। इस दौरान अतिरिक्त उपायुक्त आशुतोष गर्ग भी उपस्थित रहे।

इस मौके पर राकेश जम्वाल ने कहा कि प्रदेश सरकार लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया करवाने के लिए हर सम्भव प्रयास कर रही है। आयुष्मान भारत और हिमकेयर योजना से लोगों को पांच लाख रूपए के निःशुल्क इलाज की सुविधा मिली है। जय राम सरकार ने गम्भीर बीमारियों से पीड़ित आर्थिक रूप से कमजोर रोगियों की देखभाल के लिए सहारा योजना शुरू की है। इसके तहत कैंसर, अधरंग, मस्कुलर डिस्ट्रॉफी, थैलेसीमिया और पार्किंसन जैसी गम्भीर बीमारियों से पीड़ित रोगियों को 2000 रूपए प्रतिमाह की सहायता राशि प्रदान करने का प्रावधान है ।
उन्होंने कहा कि सुन्दरनगर अस्पताल में 12 करोड़ रूपए की लागत से बनने वाले मातृ शिशु अस्पताल का निर्माण कार्य प्रगति पर है और आगामी दो माह के भीतर इसे लोगों को समर्पित कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि नागरिक अस्पताल सुन्दरनगर में बैड क्षमता बढ़ाकर 150 की गई है व विभिन्न रोगों के 8 विशेषज्ञ चिकित्सकों के अतिरिक्त पद भी स्वीकृत किए गए हैं। 2.78 करोड़ की लागत से अस्पताल भवन की तीसरी मंजिल के निर्माण का प्राकल्लन सरकार को स्वीकृित के लिए भेजा गया है। उन्होंने कहा कि सुन्दरनगर में चिकित्सकों व पैरा मेडिकल स्टॉफ को आवासीय सुविधा प्रदान करने के लिए 9 करोड़ की लागत से भवन निर्माण कार्य भी शीघ्र आरम्भ कर दिया जाएगा।
इस दौरान उन्होंने जिला रेडक्रॉस सोसायटी के सहयोग से नागरिक अस्पताल सुन्दरनगर में लगाए गए 6 डायलासिस यूनिट का भी शुभारम्भ किया। इनमें 4 यूनिट राही किडनी केयर सेंटर जबकि 2 डायलासिस यूनिट सरबत दा भला चैरिटेबल ट्रस्ट ने भेंट किए हैं।
इस मौके अतिरिक्त उपायुक्त आशुतोष गर्ग ने कहा कि इन यूनिटों में प्रतिदिन लगभग 15 से 18 रोगियों का डायलिसिस किया जा सकेगा। बीपीएल परिवारों के लिए यह सुविधा निःशुल्क होगी। यदि कोई व्यक्ति बीपीएल परिवार के तहत नहीं आता और आर्थिक तौर पर अपना डायलिसिस करवाने में असमर्थ है तो उसे भी रेडक्रॉस के माध्यम से सहायता प्रदान की जाएगी। एपीएल परिवारों के लिए भी निकट भविष्य में डायलिसिस सस्ती दरों पर उपलब्ध करवाने के प्रयास किए जाएंगे।
इस मौके पर विशेष अतिथि के तौर पर उपस्थित सरबत दा भला चैरिटेबल ट्रस्ट के संस्थापक डॉ. एस.पी. सिंह ओबरॉय ने कहा कि पंजाब, हरियाणा और राजस्थान में भी चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा 192 डायलिसिस यूनिट स्थापित किए गए हैं। हिमाचल में भी वो इस दिशा में निरन्तर आगे बढ़ रहे हैं।
इस अवसर पर जिला भाजपा अध्यक्ष दलीप सिंह ठाकुर, मण्डल भाजपा अध्यक्ष प्रताप ठाकुर, महामंत्री जितेन्द्र शर्मा, ओम प्रकाश, बीडीसी चेयरमैन सोहन लाल, एसडीएम सुन्दरनगर राहुल चौहान, सीएमओ डॉ. जीवानन्द चोहान, अस्पताल कल्याण समिति के अध्यक्ष डी.डी. कौशल, कार्यवाहक वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी डॉ. जितेन्द्र रूडकी, सचिव रेडक्रॉस सोसायटी ओ.पी.भाटिया  सहित अन्य लोग उपस्थित रहे ।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।