71 वें गणतंत्र दिवस समारोह पर पुलिस मुख्यालय में हुआ ध्वजारोहरण
January 26th, 2020 | Post by :- | 72 Views

जयपुर,(सुरेन्द्र कुमार सोनी) । जयपुर में 71वें गणतंत्र दिवस समारोह के अवसर पर महानिदेशक पुलिस भूपेन्द्र सिंह ने प्रातः 8.20 बजे पुलिस मुख्यालय में ध्वजारोहण किया। उन्होंने इस अवसर पर पुलिस विभाग के 9 मंत्रायलिक कर्मचारियों को सराहनीय सेवाओं के लिए प्रशंसा पत्र प्रदान कर सम्मानित किया। भूपेन्द्र सिंह पुलिस अधिकारियों एवं कर्मचारियों से पूर्ण निष्ठा और उत्तरदायित्व की भावना के साथ गणतंत्र की रक्षा के लिए कार्य करने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि गणतंत्र में पुलिस कर्मियों की अत्यन्त महत्वपूर्ण भूमिका है एवं पुलिसकर्मी सजगता से अपनी भूमिका निर्वहन कर गणतंत्र को मजबूत बनाने में अपना योगदान दे सकते है। इस गणतंत्र दिवस के अवसर पर महानिदेशक कानून एवं व्यवस्था एमएल लाठर, अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस पीके सिंह, उमेष मिश्रा, नीना सिंह, राजीव शर्मा, डाॅ. रवि मेहरडा, गोविन्द गुप्ता, प्रशाखा माथुर, बीजू जार्ज जोसफ, सुष्मित विश्वास, स्मिता श्रीवास्तव, महानिरीक्षक पुलिस डाॅ. हवा सिंह घुमरिया, आलोक वषिष्ठ, उपमहानिरीक्षक गौरव श्रीवास्तव, एस. परिमाला, दीपक कुमार, राजेश मीणा, राजेन्द्र सिंह, जय नारायण एवं सत्येन्द्र सिंह सहित वरिष्ठ अधिकारीगण एवं कर्मचारीगण मौजूद थे। अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस मुख्यालय राजीव शर्मा ने बताया कि गणतन्त्र दिवस के अवसर पर पुलिस मुख्यालय में आयोजित कार्यक्रम में अतिरिक्त प्रशासनिक अधिकारी राजेन्द्र सिंह भरतपुर रेंज, अतिरिक्त प्रशासनिक अधिकारी राजेन्द्र कुमार गुप्ता पुलिस मुख्यालय, निजी सहायक भूपसिंह यादव महानिदेशक पुलिस प्रशिक्षण, वरिष्ठ सहायक लालाराम आरपीटीसी जोधपुर, वरिष्ठ सहायक अजय कुमार खण्डेलवाल भरतपुर रेंज को योग्यता प्रमाण पत्र प्रदान कर सम्मानित किया गया। उन्होंने बताया कि सहा.प्रशासनिक अधिकारी योगेश कुमार त्रिपाठी जिला भीलवाडा, सहा. प्रशासनिक अधिकारी इन्द्रपाल सिंह आयुक्तालय जयपुर, वरिष्ठ सहायक शंकर सिंह जिला टोंक तथा वरिष्ठ सहायक राकेश कुमावत राजस्थान पुलिस अकादमी को प्रशंसा पत्र प्रदान कर सम्मानित किया गया।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।