ओएलएक्स पर विज्ञापन देखकर ट्रैक्टर खरीदने आई पार्टी से तीन लाख की लूट
January 24th, 2020 | Post by :- | 153 Views
नूंह मेवात , ( लियाकत अली )  । ओएलएक्स पर सस्ते विज्ञापन का लालच देकर दूसरे राज्य के लोगों को अपने जाल में फंसा कर लूट व ठगी करने का मामला जिले में थमने का नाम नहीं ले रहा है । शुक्रवार को गुरुग्राम – अलवर राजमार्ग पर मांडीखेड़ा गांव के समीप यूपी से आए लोगों से अज्ञात बदमाशों द्वारा तीन लाख रुपये की लूट की वारदात को अंजाम देने का मामला सामने आया है । नगीना पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आरोपियों की तलाश तेज कर दी है । डीएसपी विरेंद्र सिंह फिरोजपुर झिरका ने बताया की सुशील पुत्र चंद्रप्रकाश निवासी करठल जिला बागपत उत्तर प्रदेश अपने तीन अन्य साथियों के साथ गाड़ी में सवार होकर नूह जिले के मांडीखेड़ा गांव के समीप पहुंचे । जहां पर बाइकों पर सवार होकर आए बदमाशों से उनकी मुलाकात हुई ।बदमाशों ने जलालपुर गांव के मार्ग पर ले गए और सुनसान जगह देखते हुए बदमाशों ने गाड़ी का शीशा तोड़कर यूपी से आए लोगों से तीन का कैश छीन लिया और फरार हो गए । डीएसपी ने बताया की यूपी से आए सुशील कुमार पुत्र चंद्रप्रकाश ने नगीना पुलिस को दी गई शिकायत में कहा कि उन्होंने ओएलएक्स पर महिंद्रा ट्रैक्टर का विज्ञापन देखा था । विज्ञापन पर दिए गए मोबाइल फोन पर संपर्क किया , तो ट्रैक्टर का सौदा 2.80 लाख में तय हो गया । जिसके बाद सुबह करीब सवा सात बजे यूपी की पार्टी ट्रैक्टर खरीदने के लिए बदमाशों द्वारा दिए गए पते पर पहुंची । जहां उनके साथ लूट की वारदात को अंजाम दिया गया ।वीरेंद्र सिंह डीएसपी ने कहा कि सुशील कुमार की शिकायत पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है अज्ञात चार – पांच बदमाश बताए जा रहे हैं । जिनकी तलाश में नगीना पुलिस जुट गई है । जल्द ही आरोपियों का पता लगाकर ,उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा ।

मेवात जिले की ताजा खबर  वीडियो में भी देखें  नीचे दिए गए लिंक पर किलिक  कर देखें  ,चेंनल को सब्सक्राइब जरूर करें।
क्या है खास :- नकली सोने की ईंट इत्यादि बनाने का काम राजस्थान के जुरहेड़ा कस्बा में खुलेआम होता है। जुरहेड़ा कस्बा हरियाणा राज्य के पुन्हाना खण्ड से सटा हुआ है। दोनों राज्यों के लोगों की आपस मे रिश्तेदारी है। इस अपराध में भी इसी इलाके के लोग सक्रिय हैं। खास बात यह रही कि टटलू की ठगी के सैंकड़ों मुकदमे दर्ज हुए ,लेकिन नकली ईंट बनाने वालों के खिलाफ किसी भी राज्य की पुलिस कोई कदम नही उठा सकी। पुलिस अगर नकली ईंट बनाने वाले कारीगरों के खिलाफ सख्त कदम उठाती तो यह अपराध इतना नही फल फूल पाता। देखने लायक बात यह है कि मुगलकालीन समय की मोहर इत्यादि लगाकर विशेष धातु की हूबहू खजाने में मिली ईंटों , गिन्नी , बिस्कुट , अशरफी बनाने में इनका कोई सानी नही है। जब तक इस दुखती रग पर खाकी सख्त नही होगी , तब तक इसी तरह बदमाशों के हौसले बुलंद रहेंगे।

मेवात जिले की ताजा खबर  वीडियो में भी देखें  नीचे दिए गए लिंक पर किलिक  कर देखें  ,चेंनल को सब्सक्राइब जरूर करें।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।