उपायुक्त ने निरीक्षण के दौरान जिन कर्मचारियों ने भ्रमण रजिस्टर नही भरा हुआ था, उन्हें चेतावनी दी ।
January 23rd, 2020 | Post by :- | 66 Views

अम्बाला: अशोक शर्मा

उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा ने आज एक बार फिर औचक निरीक्षण करते हुए नगर परिषद अम्बाला छावनी के कार्यालय में जाकर वहां की व्यवस्थाओं का जायजा लिया और वहां पर पांच कर्मचारी नदारद पाये जाने पर सम्बन्धित अधिकारियों को इन कर्मचारियों के खिलाफ नियमानुसार सख्त कार्रवाई अमल में लाये जाने के निर्देश दिये। इतना ही नही जो कर्मचारी अपनी सीटों की बजाये इधर-उधर बैठे थे, उन्हें भी लताड़ लगाई और उन्हें अपनी-अपनी सीटों पर बैठने के निर्देश दिये। उपायुक्त ने निरीक्षण के दौरान जिन कर्मचारियों ने भ्रमण रजिस्टर नही भरा हुआ था, उन्हें चेतावनी दी और कहा कि भविष्य में जब भी वे कार्यालय के कार्य से बाहर जायें तो इसका इन्द्राज भ्रमण रजिस्टर में करना सुनिश्चित करें। उन्होंने निरीक्षण के दौरान स्पष्ट तौर पर कहा कि आगे भी औचक निरीक्षण किया जायेगा और जो भी कर्मचारी अपने कार्य में लापरवाही बरतता पाया गया, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई अमल में लाई जायेगी।
उपायुक्त ने जहां कार्यालय का औचक निरीक्षण किया, वहीं नगर परिषद के अधिकारियों के साथ बैठकर अम्बाला छावनी नगर परिषद क्षेत्र के तहत किये जा रहे विकास कार्यों बारे जानकारी हासिल की। इसके साथ-साथ सफाई व्यवस्था के कार्य को दुरूस्त किया जा सके और शहर के चौकों का सौंदर्यकरण किया जाये, इसके लिये उनके साथ विस्तार से चर्चा करते हुए जहां उनके सुझाव जाने, वहीं उन्हें परियोजनाएं बनाकर कार्यों में परिणत करने के लिये निर्देश भी दिये। उन्होंने नगर परिषद की आमदनी के सम्बन्ध में भी चर्चा की और अधिकारियों को कहा कि नगर परिषद की आमदनी बढ़ाने की दिशा में जो कार्य किये जा सकते हैं, उन्हें करें। नगर परिषद के ईओ ने उपायुक्त को क्षेत्र के तहत किये जा रहे विकास कार्यों के साथ-साथ शहर में सफाई व्यवस्था को लेकर किये जा रहे कार्यों बारे अवगत करवाया। उल्लेखनीय है कि दो दिन पूर्व भी उपायुक्त ने जिला रैड क्रास सोसायटी कार्यालय का भी निरीक्षण किया था। बीते कल भी नगराधीश कपिल शर्मा ने भी विभिन्न कार्यालय का औचक निरीक्षण करते हुए वहां की व्यवस्थाओं का जायजा लिया था। इस अवसर पर एसडीएम सुभाष चन्द्र सिहाग, ईओ विनोद नेहरा, सचिव राजेश कुमार, एक्सईएन पंकज सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।