पर्यावरण संरक्षण के लिए सरकार के सार्थक प्रयास ग्राम पंचायत कश्मीरपुर, बगलैहड़, मंधाला तथा कालूझिंडा में बताई कल्याणकारी योजनाएं,
January 22nd, 2020 | Post by :- | 125 Views

बददी, ।    हिमाचल प्रदेश के पर्यावरण को स्वच्छ रखने तथा भूमि एवं जल को प्रदूषण से बचाने के लिए प्रदेश सरकार ने पॉलीथीन के साथ-साथ एक बार प्रयोग होने वाले अन्य गैर जीव अनाशित वस्तुओं जैसे कि थर्मोकॉल कप एवं प्लेट इत्यादि पर पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया गया है। इस प्रतिबंध का उल्लंघन करने वालों पर कार्रवाई कर अभी तक जुर्माने के रूप में 55 लाख रुपए वसूले गए हैं।
यह जानकारी सूचना एवं जनसंपर्क विभाग द्वारा कार्यान्वित किए जा रहे विशेष प्रचार अभियान के तहत पूजा कलामंच बाड़ीधार सरयांज के कलाकारों ने आज नालागढ़ विकास खंड की ग्राम पंचायत कश्मीरपुर तथा बगलैहड़ में आयोजित जागरूकता कार्यक्रमों में दी गई।

लोगों को बताया गया कि प्रदेश सरकार ने केवल एक बार प्रयोग होने तथा पुन: चक्रित न हो सकने वाले पैकेजिंग प्लास्टिक को पंजीकृत कूड़ा बीनने वालों व स्थानीय परिवारों से खरीदने की योजना भी लागू की है। इस योजना के अंतर्गत अब तक 1055 किलोग्राम प्लास्टिक कचरा खरीदा गया है। यह प्लास्टिक कचरा 75 रुपए प्रतिकिलो की दर से खरीदा जा रहा है। उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि अपने दैनिक उपयोग से प्लास्टिक को बाहर करें और हिमाचल के पर्यावरण को स्वच्छ एवं निर्मल बनाने में सहयोग दें।

इन ग्राम पंचायतों में कलाकारों ने गीत-संगीत और नुक्कड़ नाटकों के माध्यम से जहां लोगों का मनोरंजन किया वहीं विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं एवं कार्यक्रमों की जानकारी भी प्रदान की।

कलाकारों ने बताया कि हिमाचल में बेहतर औद्योगिक निवेश आकर्षित करने और प्रदेश के शिक्षित युवाओं को रोजगार उपलब्ध करवाने के लिए व्यापक पैमाने पर निवेश करने की दिशा में सफलतापूर्वक कार्य किया जा रहा है। उद्योगों के लिए पर्यावरण मंजूरी की प्रक्रिया का सरलीकरण किया गया है तथा आवेदन की प्रक्रिया को ऑनलाईन कर दिया गया है।

सप्तक कला रंगमंच के कलाकारों ने दून विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत मंधाला तथा कालूझिंडा में बताया कि प्रधानमंत्री कौशल विकास भत्ता योजना के अंतर्गत दो वर्षों में 1,33,763 लाभार्थियों को लगभग 80 करोड़ रुपये के वित्तीय लाभ प्रदान किए गए हैं।

लोगों को प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन पेंशन योजना कार्यान्वित की गई है। इस योजना के तहत 60 वर्ष की आयु के बाद पेंशन के रूप में 3,000 रुपए प्रतिमाह प्रदान करने का प्रावधान है। योजना के तहत अब तक 33078 कामगारों का पंजीकरण किया गया है। कलाकारों ने बताया कि इस योजना के अंतर्गत असंठित क्षेत्रों में काम करने वाले पेंशन प्राप्त सकते हैं।

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन पेंशन योजना से अगर कोई जुडऩा चाहता है तो उसकी आयु 40 साल से अधिक नहीं होनी चाहिए। इस योजना से जुडऩे वाले व्यक्ति की मासिक आय 15 हजार रुपये से ज्यादा नहीं होनी चाहिए। कलाकारों ने योजना का लाभ उठाने के विषय में आमजन को विस्तृत जानकारी प्रदान की।

लोगों को प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन पेंशन योजना के संबंध में किसी भी प्रकार की शिकायत के लिए कस्टमर केयर नंबर 1800-267-6888 पर संपर्क किया जा सकता है।

इस अवसर पर ग्राम पंचायत कश्मीरपुर की प्रधान अमरजीत कौर, उप प्रधान गुरमुख सिंह ठाकुर, वार्ड सदस्य राजेंद्र कुमार चौधरी, पंचायत सचिव राकेश कुमार, ग्राम पंचायत बगलैहड़ की प्रधान किरण भल्ला, उपप्रधान गुरदयाल सिंह, वार्ड सदस्य मीना कुमारी, सोढ़ी राम, सुखविंद्र सिंह, कृष्णा देवी, पंचायत सचिव किशन चौहान, बीडीसी सदस्य ममता देवी, महिला मंडल प्रधान सुनीता देवी, ग्राम पंचायत मंधाला के प्रधान करतार सिंह, उपप्रधान भागचंद, वार्ड सदस्य बलबीर चंद, राजीव कुमार, पुष्पा, निर्मला, ग्राम पंचायत कालूझिंडा के प्रधान देसराज, उपप्रधान राजीव कुमार, वार्ड सदस्य सुभाष चंद, कंचन, नरेंद्र कुमार, सरोज सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।