पट्टा महलोग सभा ने किया 2020 का कैलेंडर जारी
January 21st, 2020 | Post by :- | 85 Views

महलोग सभा पट्टा द्वारा विधिवत रूप से 2020 का कैलेंडर जारी किया गया। इसमें वर्ष 2020 के सभी महीनों को सिल-सिलेवार दर्शाया गया है। इसके साथ ही इसमें सरकारी, अर्धसरकारी, गैर सरकारी, तथा धार्मिक अवकाश की संपूर्ण जानकारी दी गई है। खास बात यह है कि इस कैलेंडर में दून हलके की 19 पहाडी पंचायतों का भौगौलिक नक्शा भी दर्शाया गया है। ताकि लोगों को इस क्षेत्र का भूगौलिक ज्ञान भी मिल सके। कैलेंडर में हर पंचायत के सरकारी कार्यालय, शिक्षण संस्थान, धार्मिक स्थल, गुरूद्वारे, मन्दिर, मु य सडकें, मु य नदियों सहित प्रत्येक पंचायत की सीमाओं को भी दर्शाया गया है। इसके इलावा महलोग सभा के सभी पदाधिकारियों का संपर्क नंबर भी वर्णित किए गए हैं, जिससे लोगों को सभा से किसी भी प्रकार की सहायता के लिए उनसे संपर्क करने में आसानी हो सके। सभा के इस कैलेंडर में इस क्षेत्र की 19 पंचायतों की सीमाएं आपस में कहां तक हैं, और किस पंचायत को कौन सी पंचायत की सीमा लगती है यह भी दर्शाया गया है। कैलेंडर में किस क्षेत्र, शहर अथवा गांव में किस विभाग का कार्यालय है के बारे में विस्तृत जानकारी मुहैया करवाने का प्रयास किया गया है। इसके अलावा कैलेंडर के माध्यम से बददी, बरोटीवाला तथा दून हल्के में कौन सा धार्मिक स्थल तथा ऐतिहासिक स्थान विद्यमान है के बारे में संपूर्ण जानकारी देने की कोशिश की गई है। कुल मिलाकर यह कैलेंडर इन तीनों क्षेत्रों को जोडऩे का एक उपयोगी जानकारी भी मुहैया करवा रहा है, ताकि इस क्षेत्र में रहने वाले अन्य क्षेत्र के लोगों को किसी भी प्रकार की असुविधा का सामना न करना पड़े। वर्ष 2020 कैलेन्डर के विमोचन कार्यक्रम के दौरान मेजर जनरल (सेवानिवृत) डॉक्टर पीएन वर्मा, डॉक्टर राजेन्द्र सिंह, पहाडी लोक गायक हेतराम कैन्था, महलोग सभा के अध्यक्ष बुधि राम वर्मा, महासचिव किशोर ठाकुर, कोषाध्यक्ष देवीदत राजू, उपाध्यक्ष देवेन्द्र सिंह ठाकुर, लायकराम भारद्वाज, देवकरण कौशल, प्रेस सचिव राजेन्द्र ठाकुर, सुरेन्द सिंह, ईश्वर वर्मा, लीलाधर वर्मा, जयगोपाल शर्मा, बलदेव सिंह, कमल शर्मा, बलवन्त ठाकुर, मदन कुमार समेत कई गणमान्य लोग उपस्थित रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।