प्रदेश का संतुलित एवं समान विकास राज्य सरकार की प्राथमिकता-वीरेंद्र कंवर
January 18th, 2020 | Post by :- | 87 Views

– दून विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत सनेड़ व बारियां में किए 75 लाख रुपये के शिलान्यास…

बद्दी! ग्रामीण विकास, पंचायत राज, पशुपालन एवं मत्स्य पालन मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा देशहित में किए जा रहे निर्णयों के दीर्घावधि में सकारात्मक परिणाम सामने आएंगे तथा इन निर्णयों से देश की एकता व अखण्डता अक्षुण्ण बनी रहेगी। वीरेंद्र कंवर गत सांय सोलन जिला के दून विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत सनेड़ तथा बारियां में आयोजित जनसभाओं को संबोधित कर रहे थे। ग्रामीण विकास व पंचायत राज मंत्री ने इससे पूर्व ग्राम पंचायत सनेड़ के गांव बागबानियां में 45 लाख रुपये की लागत से निर्मित होने वाले तूड़ी शेड तथा ग्राम पंचायत बारियां के पट्टा महलोग में 30 लाख रुपये की लागत से बनने वाले मुख्यमंत्री लोकभवन की आधारशिला रखी। वीरेंद्र कंवर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार ने हाल ही में कई महत्पूर्ण निर्णय लिए हैं। उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 समाप्त करने से जहां कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक भारत सही मायनों में एक हुआ है वहीं इस निर्णय का पूरे देश में स्वागत किया गया है। उन्होंने कहा कि इस निर्णय से देश की एकता व अखण्डता वास्तविक अर्थों में सुनिश्चित हुई है। उन्होंने कहा कि तीन तलाक समाप्त करने के निर्णय से मुस्लिम समुदाय की महिलाओं को सैंकड़ों वर्ष बाद बेडि़यों से मुक्ति मिली है। तीन तलाक समाप्त करने के निर्णय का मुस्लिम बहुल देशों की महिलाओं द्वारा भी स्वागत किया गया है। वीरेंद्र कंवर ने कहा कि नागरिकता संशोधन अधिनियम भारत के संवैधानिक रूप से मुस्लिम बहुल उन पड़ोसी राष्ट्रों के अल्पसंख्यकों को नागरिकता देगा जो अपने देश में धार्मिक एवं अन्य कारणों से पीडि़त हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस अधिनियम के तहत पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश के हिंदू ,बौद्ध, सिख, ईसाई, जैन और पारसी धर्मावलंबियों को भारत की नागरिकता दी जाएगी। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश में धर्म के नाम पर अल्पसंख्यकों को प्रताडि़त किया जाता है। उन्होंने कहा कि ऐसे प्रताडि़त अल्पसंख्यक भारत में आते हैं और इन्हें नागरिकता देना हमारा कर्तव्य है। अल्पसंख्यकों को नागरिकता देने के लिए केंद्र सरकार ने नियम तय किए हैं और इन नियमों के आधार पर ही अल्पसंख्यकों को देश में नागरिकता दी जाएगी। उन्होंने कहा कि लोग इस अधिनियम की वास्तविकता को समझें और इस अधिनियम के संदर्भ में किए जा रहे भ्रामक प्रचार का विरोध करें। ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नेतृत्व में प्रदेश सरकार स्वच्छ, पारदर्शी एवं संवेदनशील प्रशासन देने की दिशा में कार्यरत है। उन्होंने कहा कि इस दिशा में जनमंच एवं मुख्यमंत्री सेवा संकल्प हेल्पलाइन विशेष रूप से सहायक सिद्ध हो रहे हैं। विकास की दृष्टि से बिना किसी भेदभाव के सबका हित सबका कल्याण को केंद्र में रखकर कार्य किया जा रहा है। प्रदेश का एक समान एवं संतुलित विकास सुनिश्चित बनाया जा रहा है। वीरेंद्र कंवर ने कहा कि हाल ही में धर्मशाला में आयोजित ग्लोबल इन्वेस्टर्ज मीट में 93 हजार करोड़ के समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर हुए हैं। इनमें से 15 हजार करोड़ के निवेश कार्य को आरंभ कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि ग्लोबल इन्वेस्टर्ज मीट के बाद भी लगभग 7500 करोड़ के समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर हुए हैं। इससे आने वाले समय में प्रदेश में बेरोजगार युवाओं के लिए प्रत्यक्ष व परोक्ष रूप से रोजगार के बेहतर अवसर सृजित होंगे। वीरेंद्र कंवर ने इस अवसर पर जनसमस्याएं सुनीं एवं अधिकारियों को इनके निपटारे के निर्देश दिए। इस अवसर पर दून विधानसभा क्षेत्र के विधायक परमजीत सिंह पम्मी, हिमाचल प्रदेश गौ सेवा आयोग के उपाध्यक्ष अशोक शर्मा, दुग्ध पशु सुधार सभा सोलन के अध्यक्ष रविंद्र परिहार, वरिष्ठ भाजपा नेता डॉ. श्रीकांत शर्मा, बीडीसी धर्मपुर की अध्यक्ष अनीता, जिला परिषद सदस्य रमा ठाकुर, ग्राम पंचायत बाडि़यां की प्रधान ममता गुप्ता, बीडीसी सदस्य विद्या देवी, भाजपा तथा भाजयुमो के पदाधिकारी, विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारी एवं बड़ी संख्या में स्थानीय निवासी उपस्थित थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।