आपदा प्रबन्धन के लिये जिला में प्रशिक्षित किये जाएंगे 200 आपदा मित्र ।
January 15th, 2020 | Post by :- | 83 Views

अम्बाला: अशोक शर्मा

आपदा मित्र को प्रशिक्षण देने व आपदा सम्बन्धी तैयारियों को लेकर उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा की अध्यक्षता में उनके कार्यालय में बैठक हुई, जिसमें भारत सरकार के नेशनल डिजास्टर मैनेजमैंट अथॉरिटी के संयुक्त सलाहकार नवल प्रकाश तथा प्रोजैक्ट एसोसिएट (आपदा मित्र) ब्रजेश जयसवाल भी मौजूद रहे। बैठक में उपायुक्त ने कहा कि देश के चुनिंदा 30 जिलों में से हरियाणा के जिला अम्बाला को भी संभावित बाढ़ प्रभावित जिलों में आपदा मित्र तैयार करने और उन्हें जरूरी प्रशिक्षण देने के साथ-साथ अन्य आवश्यक प्रबन्ध करने के लिये चिन्हित किया गया है। जिसमें 200 आपदा मित्र तैयार किये जाएंगे, जिनमें से 50 आपदा मित्र तैयार कर लिये गये हैं। उन्होंने कहा कि एन.सी.सी., नेहरू युवा केन्द्र के स्वंयसेवको के अलावा महिलाओं को भी आपदा मित्र के तौर पर प्रशिक्षण दिया जाये ताकि किसी भी आपदा जैसे संकट के समय वे सहयोग दे सकें। उन्होंने कहा कि कोई भी युवा जो आपदा मित्र का प्रशिक्षण लेना चाहता है, उसकी एक सप्ताह की ट्रेनिंग का रहने, खाने का वहन सरकार द्वारा किया जायेगा। इसके लिये जिला अम्बाला का नोडल ऑफिसर डीआरओ कैप्टन विनोद शर्मा को बनाया गया है। उन्होंने कहा कि आपदा एवं संकट के समय सायरन की व्यवस्था भी हो, इसके लिये जरूरी प्रबन्ध भी किये जाएं। उपायुक्त ने कहा कि बाढ़ प्रबन्धन के लिये जो प्रोजैक्ट हमें चाहिए थे, उनकी मंजूरी सरकार से मिल चुकी है।
बैठक में उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा ने बताया कि वर्ष 2020 के तहत कुल 27 योजनाएं तैयार की गई हैं, जिन पर लगभग 40 करोड़ रूपए की राशि खर्च किए जाने का प्रावधान हैं। नई योजनाओं के तहत 18 शार्ट टर्म और 8 मीडियम टर्म व 1 लांग टर्म योजना शामिल हैं। उन्होंने यह भी बताया कि पिछले वर्ष के तहत शार्ट टर्म की योजनाओं को पूरा कर लिया गया हैं। जो बाकी योजनाएं हैं उन पर कार्य चल रहा हैं तथा 30 जून 2020 तक उन योजनाओं को पूरा कर लिया जाएगा। इस अवसर पर नेशनल डिजास्टर मैनेजमैंट अथॉरिटी के संयुक्त सलाहकार नवल प्रकाश ने बताया कि डिजास्टर रिसपोंस के लिये कम्पयूनिटी वॉलिंटियर्स को ट्रेनिंग देने के लिये स्कीम शुरू की गई है, जिसके तहत देश के 25 राज्यों/केन्द्र शासित प्रदेशों के 30 जिलों को चिन्हित किया गया है, जिनमें बाढ़ का संभावित खतरा रहता है, उनमें से जिला अम्बाला भी एक है। इन सभी जिलों में 200-200 आपदा मित्र को ट्रेनिंग देकर तैयार किया जायेगा। ऐसे कुल 6000 आपदा मित्र इन 30 जिलों में तैयार किये जाएंगे जोकि किसी भी आपदा के समय जरूरत पडऩे पर एनडीआरएफ की रेस्क्यू टीम के आने से पूर्व मौके पर पंहुचकर सहयोग करेंगे और लोगों की मदद करेंगे। इसके लिये जरूरी सामान की किट भी तैयार की जायेगी।
बैठक में एसडीएम अम्बाला शहर गौरी मिड्ढा, एसडीएम अम्बाला छावनी सुभाष चन्द्र सिहाग, एसडीएम नारायणगढ़ अदिति, एसडीएम बराड़ा गिरीश चावला, डीआरओ कैप्टन विनोद शर्मा, गृहरक्षी विभाग के अधिकारी पी.एस. बाजवा, जिला रैड क्रास सोसायटी की सचिव विजया लक्ष्मी, सिंचाई विभाग के एक्सईन प्रवीण गुप्ता सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।