करीब 8 माह पहले दर्ज हुए नाबालिग यौन शोषण मामले में पकड़े गए आरोपी कुलविंदर उर्फ किंदा के खिलाफ परिजनों और गांव निवासियों ने सख्त से सख्त कारवाई की मांग की ।
January 14th, 2020 | Post by :- | 177 Views
करीब 8 माह पहले दर्ज हुए यौन शोषण मामले में पकड़े गए आरोपी किन्दा के खिलाफ कार्रवाई  ना करने के पीड़ित परिवार और गांव निवासियों ने लगाए आरोप ।

जंडियाला गुरु कुलजीत सिंह
बता दे कि  8 मई 2019 को  नाबालिगा को अगवा करने का मामला थाना जंडियाला गुरु में 6 लोंगो के खिलाफ मामला दर्ज हुआ था ।बाद में इस मामले में जांच के बाद धारा 376 डी और पोक्सो एक्ट भी जोड़ा गया ।इस मामले में पुलिस अभी तक केवल 2 आरोपियों  मनजीत कौर और हरदीप सिंह को पकड़ पाई है ।जबकि अन्य आरोपी फ़रार है ।पीड़ित परिवार और गांव निवासियों का कहना है पुलिस चौकी इंचार्ज नवां पिंड ए एस आई विक्टर ने इस मामले में वांछित आरोपी कुलविंदर सिंह उर्फ किंदा को पकड़ा है ।उनका कहना कि स्थानीय पुलिस आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई नही कर रही थी ।जिसके चलते उन्होंने पुलिस के उच्च अधिकारियों से गुहार लगाई थी ।इसी के तहत आज नवां पिंड चौकी इंचार्ज ने छापेमारी की और आरोपी कुलविंदर सिंह उर्फ किंदा को पकड़ा है ।
बता दे कि नियमो के अनुसार इस मामले की माननीय अदालत में चार्जशीट दखल करने की अवधि 3 माह होती है लेकिन इस मामले में करीब 8 माह बीत जाने के बाद भी पुलिस चार्जशीट भी दाखिल नही कर पाई है ।इसी वजह से पकड़े गए 2 आरोपियों को अदालत से जमानत मिल गई और दूसरे आरोपियों के खिलाफ भगौड़े होने की कार्रवाई भी ठंडे बस्ते में पड़ी रही ।
वही चौकी इंचार्ज से जब कुलविंदर सिंह उर्फ किंदा के पकड़े जाने के बारे में पूछा गया तो उसने दो टूक जवाब देते हुए कहा कि उन्हें नही इस मामले की जानकारी है नही ।
दूसरी तरफ पीड़ित परिवार और गांव निवासियों ने कहा कि एक तरफ सरकार बेटियों की रक्षा होने का दावा करती है तो दूसरी तरफ कुछ पुलिस अधिकारी ऐसे आरोपियों को संरक्षण देती है ।चेतावनी देते हुए उन्होंने कहा यदि बिना कार्रवाई  कुलविंदर उर्फ किंदा को छोड़ा तो वह अपना इंसाफ लेने के लिए संगर्ष करेंगे ।इस मौके पर जसपाल सिंह ,दलबीर सिंह ,हरजीत कौर ,नरिंदर सिंह ,मेजर सिंह ,बूटा सिंह ,सुखचैन सिंह ,अम्न सिंह ,मलकीत सिंह ,गुरनाम सिंह ,गुरप्रीत सिंह ,जसवंत सिंह ,मोहिंदर कौर ,परमजीत कौर ,दलजीत कौर ,जोबन्दीप सिंह और चरनजीत कौर हाजिर थी ।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।