श्री राम भक्त हनुमान सभा द्वारा बालाजी के स्वरूप लाने के लिए निकाली 12वीं भव्य शोभायात्रा।
August 28th, 2019 | Post by :- | 266 Views

पानीपत (अमित जैन)

पानीपत जहां अपने इतिहास के लिए जाना जाता है वहीं दूसरी ओर धर्म के क्षेत्र में भी अमिट छाप है। जिसके चलते पानीपत की विभिन्न सामाजिक धार्मिक संस्थाएं धार्मिक क्षेत्र में निरंतर गतिशील है।और हर त्योहार को पूरी श्रद्धा भक्ति व पूरे हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है।

जिसके चलते हर वर्ष सावन माह के साथ ही त्योहारों का आगमन हो जाता है।जिसमे भगवान श्री राम जी के प्रति विशेष भक्ति भावना देखने को मिलती है। वह शहर की विभिन्न हनुमान भक्त सभाओं द्वारा इस भक्ति को किया जाता है।

विभिन्न सभाओं में से ही शहर की श्री राम भक्त हनुमान सभा आठ मरला है। जिसके द्वारा प्रतिवर्ष श्री बालाजी महाराज के स्वरूप लाने के लिए भव्य शोभायात्रा निकाली जाती है।

सभा के प्रधान अमरजीत सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि हमारी सभा पिछले लगातार 12 वर्षों से प्रभु श्री राम की भक्ति करने में अपनी हाजिरी लगाती है।और हर वर्ष बड़े हर्षोल्लास के साथ शोभायात्रा निकाली जाती है। अबकी बार हनुमान जी के 71 व्रतों पर अक्षय मिगलानी महाराज बैठे हैं। चलिया व्रतों पर कालू महाराज, चिराग महाराज, ऋषभ महाराज, राम महाराज आदि बैठे हैं।

आज की शोभायात्रा तहसील कैम्प फतेहपुरी चौक से प्रारंभ होकर आठ मरला चौक व्रतों के स्थान पर संपन्न हुई। यात्रा का शुभारंभ मुख्य अतिथि के तौर पर भाजपा नेता सुरेंद्र रेवड़ी व समाजसेवी वीरेंद्र नरवाल द्वारा किया किया गया। एवं वशिष्ठ अतिथि के रूप में डीएसपी सतीश वत्स,सनातन धर्म मंदिर के प्रधान तरुण गांधी, मुल्तानी सावन ज्योत के प्रधान विपिन चुघ व शहर की सामाजिक संस्थाएं मौजूद रही।

अक्षय महाराज ने बतया की श्री बालाजी महाराज हर किसी के संकट हरने वाले सभी को खुशियां देने वाले हैं। और सभी पानीपत वासियों की बालाजी महाराज के प्रति बहुत गहरी श्रद्धा व आस्था है।

बालाजी का भी शहरवासियों पर विशेष आशीर्वाद है।जो की यह पर्व संपूर्ण उत्तर भारत में विशेष तौर पर पानीपत में ही मनाया जाता है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।