डॉक्टरों की लापरवाही फिर सामने अाई है एक रेप पीड़िता काे मेडिकल जांच कराने के लिए घंटों इंतजार करती रही।
August 28th, 2019 | Post by :- | 144 Views

बांसवाड़ा (गौरव वैष्णव) महात्मा गांधी अस्पताल में डॉक्टरों की लापरवाही फिर सामने अाई है। मंगलवार शाम काे महिला थाना पुलिस एक रेप पीड़िता काे मेडिकल जांच कराने के लिए घंटों मेडिकल ज्यूरिस्ट डाॅ. धीरज खन्ना का इंतजार करती रही।लेकिन डॉक्टर चार घंटे तक नहीं अाए। जबकि अस्पताल से दाे बार उन्हें इमरजेंसी काॅल किया गया था। यह घटना है शाम साढ़े बजे की। दरअसल 13 अगस्त काे 23 वर्षीय युवती के साथ ज्यादती की वारदात हुई। पीड़िता ने इस संबंध में 27 अगस्त शाम 6 बजे रिपोर्ट दर्ज कराई। इसके बाद महिला थाने से एक महिला कांस्टेबल के साथ मेडिकल रिपोर्ट के लिए पीड़िता काे अस्पताल भेजा गया। वहां पर काॅल कर डाॅ. धीरज खन्ना काे बुलाया गया, लेकिन वह दाे घंटे बाद भी नहीं अाए नहीं थे। करीब 9 बजे एक महिला डॉक्टर जांच के हिसाब से अाई। इसी बीच मामले की जानकारी महिला थानाधिकारी कैलाश खटीक काे भी दी गई। वे भी अस्पताल अा गए। इसके बाद डाॅ. धीरज खन्ना काे दूसरी बार फिर काॅल किया। रात 9.30 बजे तक वे नहीं अाए। इसके बाद करीब 9.50 पर वे अस्पताल अाए अाैर पीड़िता की मेडिकल रिपोर्ट तैयार की। इधर, महिला थाने में पीड़िता ने रिपोर्ट दी कि वह 13 अगस्त काे मलवासा क्षेत्र में सड़क के करीब से जा रही थी कि दाे युवक बाइक पर अाए अाैर जबरन उसे उठाकर ले गए। दाेनाें आरोपी उसे पास ही स्थित नहर की तरफ ले गए, जहां ज्यादती की और अगले दिन उसे छोड़ दिया। पुलिस ने मामले को दर्ज कर दिया है। जिसकी जांच डिप्टी प्रभाती लाल करेंगे। इस संबंध में डॉ. धीरज खन्ना से संपर्क करने की कोशिश की, लेकिन उन्होंने फोन नहीं उठाया।गौरतलब है कि डॉ. धीरज खन्ना को लेकर पहले भी इस तरह की शिकायते सामने आ चुकी है कि वह इमरजेंसी कॉल पर समय से नहीं आते हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।