शिवालिक विकास मंच के अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री को भेजा ज्ञापन, कहा तुरन्त नियुक्त हो सभी प्रशासनिक अधिकारी।
January 12th, 2020 | Post by :- | 34 Views
पिंजौर (चन्द्रकान्त शर्मा)
एक तरफ जहां कालका को विधानसभा में नम्बर 1 पर अंकित किया जाता है, प्रदेश की राजधानी चंडीगढ़ व हिमाचल,पंजाब आदि प्रदेशो से सटा क्षेत्र है, अपनी प्राकृतिक सुंदरता के लिए विश्व पर्यटन में अंकित है तो वही प्रशासनिक, शासनिक रूप से कालका सबसे पिछड़ा व लावारिस क्षेत्र है उक्त आरोप शिवालिक विकास मंच के अध्यक्ष व हरियाणा सरकार में चेयरमेन रहे विजय बंसल ने सब डिवीजन कालका से सरकार की अनदेखी व कमजोर नेतृत्व को देखते हुए लगाए है।काफी समय से सबडिवीजन कालका में जनता को प्रशासनिक कार्य करवाने के लिए दर दर की ठोकरे खाकर दफ्तरों से बेरंग वापिस लौटना पड़ रहा है क्योंकि सबडिवीजन कालका में न तो कोई एसडीएम, न ही कोई परमानेंट तहसीलदार, न ही कोई नायब तहसीलदार व न ही अन्य दफ्तरों में उपयुक्त कर्मचारी व अफसर जनहित की सेवा में तैनात है जिससे जजपा-भाजपा सरकार का कालका की जनता के प्रति भेदभावपूर्ण रवैया उजागर हो चुका है। इसके साथ ही सरकार की नीयत व नीति भी स्पष्ट हो चुकी है जिसमे केवल सत्तासीन पार्टी जनता से झूठे जुमले-वायदे करे परन्तु जनहित में काम करने के लिए कोई योजना व कार्य नही।बंसल ने बताया कि सरकार की इस अनदेखी के कारण विकास कार्य तो प्रभावित हो ही रहे है बल्कि रोजमर्रा के कार्य भी प्रभावित हो रहे है जिससे जनता परेशान हो चुकी है। विजय बंसल ने बताया कि जनता ने उन्हें समस्या से अवगत करवाया तो उन्होंने स्वयं जायजा लिया कि कालका में न तो लोगो की जमीनों की रजिस्ट्रियां हो रही,न ही लोगो की गाड़ियों की आरसी बन रही व न ही लोगो के ड्राइविंग लाइसेंस बन रहे है जोकि काफी दुखद है जिसके लिए कमजोर नेतृत्व व सरकार की अनदेखी जिम्मेवार है।
— कोई आपदा या विपदा आ जाए तो प्रशासनिक रूप से कालका अनाथ…
विजय बंसल ने कहा कि कालका बॉर्डर एरिया से सटा क्षेत्र है, देश के हालात नाजुक है आए दिन कही न कही शरारती तत्व उपद्रव कर रहे है व यह बहुत ही चिंता का विषय है कि यदि कालका पर कोई विपदा या आपदा आजाए, ला व ऑर्डर की स्थिति बिगड़ जाए तो कोई अधिकारी जायजा लेने तक के लिए नही है जिससे कालका प्रशासनिक रूप से तो अनाथ है ही बल्कि कालका का कोई रखवाला भी नही है।
— विजय बंसल ने मुख्यमंत्री को भेजा ज्ञापन….
हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल को एडवोकेट विजय बंसल ने ज्ञापन भेजकर तत्काल व तुरन्त प्रभाव से सबडिवीजन कालका के लिए परमानेंट एसडीएम, परमानेंट तहसीलदार व नायब तहसीलदार तथा अन्य दफ्तरों में उपयुक्त कर्मचारी व अफसर नियुक्त करने के लिए कहा है क्योंकि सरकार को कालका से करोड़ो का राजस्व प्राप्त होता है व सरकार का यह दायित्व ही नही जिम्मेवारी है कि जनता को प्रशासनिक सुविधाए मुहैया करवाया जाए।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।