पार्षदों ने किया तख्तापल्ट अविश्वास प्रस्ताव पारित,  चेयरमैन राजगोपाल को पद से हटाया |
August 28th, 2019 | Post by :- | 185 Views

हसनपुर पलवल (मुकेश वशिष्ट) :-  होडल नगर परिषद के चेयरमैन राजगोपाल को मंगलवार को अविश्वास प्रस्ताव पारित कर चेयरमैन पद से हटा दिया गया। नगर परिषद में पार्षदों की यह बैठक एसडीएम वत्सल वशिष्ट की देखरेख में हुई। इस कार्यवाही के दौरान चेयरमैन राजगोपाल के साथ एक ही पार्षद नगर परिषद में पहुंचे वहां चुनाव से पहले ही राजगोपाल वर्क आउट कर गए। बताया जाता है कि आज होने वाली कार्यवाही की रिपोर्ट जल्द जिला उपायुक्त को पेश कर परिषद् के उप चयेरपर्सन आशा तायल नगर परिषद् चेयरमैन का पदभाल सभालेंगी। नगर परिषद् चेयरमैन के खिलाफ हुई इस कार्यवाही के बाद शहर की जनता व नगर परिषद के पार्षदों ने चैन की सांस ली है।
ज्ञात रहे कि शहर में बिगडते सफाई व्यवस्था के हालातों व घोटालों के मामलों में लिप्त नगर परिषद के चेयरमैन राजगोपाल के खिलाफ वार्ड के टोटल 21 पार्षदों में से पंद्रह पार्षदों ने 6 अगस्त को जिला उपायुक्त को अविश्वास पत्र सौंपा था। इसके अलावा परिषद् अधिकारियों ने यहंा पार्षदों के घरों के गेट पर अविश्वास प्रस्ताव को लेकर 27 अगस्त को नगर परिषद् में होनी वाली बठैक के चस्पा भी चिपका दिया था।

मंगलवार सुबह परिषद के प्रांगण में अविश्वास पत्र की होने वाली बैठक में एसडीएम वत्सल वशिष्ट, कार्यकारी अधिकारी मनेंद्र ङ्क्षसह, एमई ओमदत्त के अलावा वार्ड के पंद्रह पार्षद वार्ड 13 राजू पंखिया, 7 से जसवंत, 11 से सतवीर, 2 से तेजसिंह, 1 से किरणदेव, 9 से लखन, 16 से तपेन्दर, 21 से शिवराम, 14 से सत्यवीर, 6 से महिला पार्षद राजेश, 16 से इन्द्रेश, 15 से प्रिया, 5 से मनीषा, 18 से आशा रानी तायल, 12 से सुषमा पहुंच गए। वार्ड पार्षदों के पहुंचने के कुछ देर बाद चेयरमैन राजगोपाल अपने साथ वार्ड 19 के पार्षद देवेश कुमार को लेकर परिषद् में पहुंचे जबकि वार्ड के बकाया पार्षदों में से कोई भी इस अविश्वास प्रस्ताव की बैठक में नहीं पहुंचा।

एसडीएम व कार्यकारी अधिकारी ने प्रस्ताव की बैठक को आगे बढाते हुए चुनाव कराने का निर्णय लिया, लेकिन चुनाव कराने से पहले ही चेयरमैन राजगोपाल व उनके पक्ष में आए पार्षद देवेश कुमार बैठक से वर्क आउट कर गए। एसडीएम ने बैठक में बताया कि वार्ड के टोटल 21 पार्षदों में से 15 पार्षदों ने अविश्वास पत्र सौंपा है उसी के चलते राजगोपाल को नगर परिषद चेयरमैन पद से हटाया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि इस अविश्वास पत्र की रिपोर्ट जिला उपायुक्त के समक्ष पेश की जाएगी और जिला उपायुक्त के आदेश के बाद जल्दी नगर परिषद के चेयरपर्सन आशा तायल चेयरमैन पद का कार्यभार सभालेंगी। राजगोपाल के चेयरमैन पद से हटने के बाद जहां शहर के लोगों ने राहत की सांस ली है वही वार्ड पार्षदों में भी खुशी की लहर दौड गई। अविश्वास पत्र देने वाले वार्ड पार्षदों का शहर के लोगों ने फूल-मालाओं से स्वागत किया है। इस मौके पर हरेंद्र सिंह, राजू तायल, नेगपाल कढेरा, जगप्रिय के अलावा अन्य लोग मौजूद थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।