धक्का कलोनी न्यू बस्ती ढांगूपीर में पूरे गाँव के गन्दे पानी की निकासी बन्द होने से  गाँव मे फैली बदबू , ग्रामीण नरकीय जीबन जीने को मजबूर
January 10th, 2020 | Post by :- | 81 Views
धक्का कलोनी न्यू बस्ती ढांगूपीर में पूरे गाँव के गन्दे पानी की निकासी बन्द होने से  गाँव मे फैली बदबू , ग्रामीण नरकीय जीबन जीने को मजबूर

गगन ललगोत्रा (व्यूरो कांगड़ा)

धक्का कलोनी न्यू बस्ती ढांगूपीर में पूरे गाँव के गन्दे पानी की निकासी बन्द होने से  गाँव मे फैली बदबू , ग्रामीण नरकीय जीबन जीने को मजबूर,

भयंकर बीमारी फैलने का खतरा बढ़ा

पंजाब के एक व्यक्ति ने कर डाली है गन्दे पानी की निकासी बंद

इंदौरा विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आती पंचायत बेली महंता के गांव नई वस्ती धक्का कलोनी के लोग पुरे गांव में बहते गंदे पानी के नाले की निकासी न होने से नर्कनुमा जीवन जीने को मजबूर हैं। इस गांव में लगभग 200 से ऊपर घर हैं जो इस गंदे नाले की वजह से बहुत परेशान हैं। गाँव की हर गली पंचायत द्वारा पक्की करबा दी गई है और गली के मध्य में स्लेप डालकर अंडर ग्राउंड हर घर के गंदे पानी की निकासी करबाने की कोशिश की है पर यहां यह पुरे गाँव का पानी जाता है और जगह पर पंजाब के एक किसान ने पूरे गाँव मे यह हबाला देकर पानी अपनी जमीन की तरफ आना बंद कर दिया है के यह मेरी जमीन पंजाब में पड़ती है और मैं अपनी जमीन में गन्दे पानी को नही पड़ने दूंगा ।

अब पूरे गाँव मे आलम यह बन गया है कि हर गली मुहले में इकठे हुए गन्दे नाले से उठ रही बदबू वातावरण को दूषित कर लोगों के स्वास्थ्य पर बुरा असर डाल रही है तो दूसरी ओर नाले से निकल रहे कीड़े मकोड़े लोगों के घरों में घुस रहे हैं । ग्राम निबासियो ने बताया के हमारे गाँव का गंदा नाला बंद हो चुका है और नाले की निकासी बंद होने के कारण जहां बदबू नुमा पानी इकट्ठा हो गया है । लोगों ने बताया बार्ड नंबर 2,3 ओर 4 की नालियों ओर बरसात के गन्दे पानी की निकासी पहले कुछ हद तक हो जाती थी ओर जो नाला पानी के निकासी के लिए बनाया गया था उसको गाँव के ही कुछ एक लोगों ने जबरन बंद किया जा है उन्होंने गली के बीच मे ही निजी सेफ्टी टैंक बना दिया है जिस कारण पानी आगे नहीं जा रहा है और ग्रामीण बहुत परेशान हैं और गन्दा पानी उनके घरों में घुसकर बीमारियों का कारण बन रहा है ग्रामीणों ने बताया के। पूरे गांव में यही एक नाला निकासी का साधन है ओर पूरे गांव में गन्दे पानी की निकासी की ही प्रमुख समस्या है । लोगों का कहना है कि इसके कारण उनके घरों में गंदे पानी के कीड़े व उनके मकानों में पानी की सेजल रहती है जिस कारण उनके मकानों को भी खतरा बना हुआ है तथा हर समय दुर्गंध फैली रहती है जे एकमात्र नाला की निकासी का साधन था वह भी काफी दिनों से बंद है बरहाल जीवन जीना बहुत मुश्किल हो गया है लोगों को सांस लेने में भी परेशानी आ रही है

‌इस संबंध में जब ग्राम पंचायत बेली मंहता के प्रधान अशोक कुमार से बात की गई तो उन्होंने बताया के कि इस काम के लिए हमारे पास पर्याप्त बजट है लेकिन यह नाले का पानी गाँव के साथ लगती पंजाब सीमा को जाता है ओर पंजाब की जमीन का मालिक पानी की निकासी को नहीं दे रहा है । जिस कारण गांव वासियों के लिए यह समस्या मुसीबत बनी हुई है मैं सरकार से मांग करना चाहता हूं कि सरकार ओर स्थानीय प्रशाशन इस पर कड़ी कार्रवाई करते हुए गाँव के साथ लगती हिमाचल या पंजाब की सरकारी भूमि को निकासी के लिए उपलब्ध करवाएं
‌ ताकी गाँव को गंदगी भरे जीबन जीने से नियात मिले

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।