मजदूर विरोधी सरकार हिमाचल प्रदेश से बाहर ।।। इंटक उपाध्यक्ष जसविंदर चौधरी
January 9th, 2020 | Post by :- | 199 Views

बद्दी ( राज कश्यप )  ।      सभी ट्रेड यूनियनों की राष्ट्रव्यापी हड़ताल के दौरान बद्दी में इंटक उपाध्यक्ष जसविंद्र चौहान के  नेतृत्व में संपन्न हुई ।मजदूर विरोधी मोदी सरकार के खिलाफ भारत बंद के दौरान इंटक के जिला उपाध्यक्ष जसविंदर चौहान और जिला महासचिव मंगल चौधरी के नेतृत्व में कर्मचारियों और मजदूरों ने बढ़ चढ़कर भाग लिया और मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी सभी मजदूरों को न्यूनतम वेतन 21000 प्रतिमा से कम ना हो श्रम कानूनों में मजदूर विरोधी संशोधनों को वापस लिया जाए। मजदूरों के लिए सर्वव्यापी सामाजिक सुरक्षा कानून लागू किया जाए ।ट्रेड यूनियनों का पंजीकरण 45 दिन के सीमा के अंदर अनिवार्य किया जाए। केंद्र सरकार रेल रक्षा और बीमा के क्षेत्र में विदेशी पूंजी पर रोक लगाएं।

सभी कर्मचारियों ने एक सुर में हड़ताल को कामयाब बनाने के बारे में कहा। कर्मचारियों के कई ज्वलंत मुद्दे आज भी ज्यों के त्यों खड़े हैं। माननीय सर्वोच्च न्यायालय के समान काम समान वेतन के निर्णय को भी आज तक  लागू नहीं किया गया है। बहुत सारे कर्मचारियों को काम करते हुए 10 से 12 साल हो गए। परंतु उनके भविष्य को देखते हुए कोई भी रेगुलर पॉलिसी नहीं बनाई गई है। कर्मचारी बहुत लंबे समय से रेगुलर पॉलिसी बनाने , समान काम समान वेतन लागू करवाने और पुरानी पेंशन स्कीम को बहाल करवाने के लिए आंदोलनरत हैं । इन सभी मुद्दों को लेकर 8 जनवरी 2020 को राष्ट्रव्यापी हड़ताल में कर्मचारी बढ़-चढ़कर भाग लिया।

इस राष्ट्रव्यापी हड़ताल के दौरान  इंटक उपाध्यक्ष जसविंदर चौहान, महा सचिव मंगल चौधरी, गुरुदेव चौधरी, केवल चौधरी इस मौके पर विशेष रूप से उपस्थित रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।