नागरिकता संशोधन कानून को लेकर कुछ विपक्षी दल कर रहे हैं दुष्प्रचार
January 5th, 2020 | Post by :- | 86 Views

रोहतक :-【 विकास ओहल्याण, ब्यूरो चीफ रोहतक】  भारतीय जनता पार्टी रोहतक इकाई द्वारा आज एक निजी गार्डन से नागरिकता संशोधन कानून के पक्ष में डोर टू डोर अभियान शुरू किया गया। अभियान का शुभारंभ सांसद डॉ अरविंद शर्मा व पूर्व मंत्री मनीष कुमार ग्रोवर ने उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए किया । इस अवसर पर रोहतक के सांसद डॉ अरविंद शर्मा,पूर्व मंत्री मनीष कुमार ग्रोवर रोहतक के मेयर मनमोहन गोयल,जिला अध्यक्ष अजय बंसल,डॉ रीटा शर्मा, पूर्व सैनिक प्रकोष्ठ के संयोजक कर्नल राजेंद्र सिंह सुहाग,प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य राजरानी शर्मा,रमेश अत्री पूर्व जिलाध्यक्ष सुरेंद्र बंसल, जिला महामंत्री धर्मबीर शर्मा व सतीश आहूजा विशेष रूप से उपस्थित ​ रहे।
इस अवसर पर सांसद डॉ अरविंद शर्मा ने अपने संबोधन में कहा कि नागरिकता संशोधन कानून को लेकर देश में कुछ विपक्षी दल दुष्प्रचार कर साम्प्रदायिक रंग देने में लगे हैं जो सही नहीं है। उन्होंने कहा कि धर्म के आधार पर हुए देश के बंटवारे को स्वीकार कर कांग्रेस ने ऐतिहासिक भूल की थी। उसको भुगतने वाले पाकिस्तान, अफगानिस्तान व बांग्लादेश में रह रहे लाखों करोड़ हिंदू, सिख, बौद्ध, पारसी व इसाईयों की सुरक्षा का उपाय भाजपा सरकार ने कर दिया है। सरकार का यह कदम किसी विशेष समुदाय के विरूद्ध नहीं लाया गया है। जैसा कि इसको लेकर प्रचार किया जा रहा है।

सांसद अरविंद शर्मा ने कहा कि जो काम देश की आजादी के बाद शुरू हो जाना चाहिए था वो आजादी के 73 वर्ष बाद शुरू हो सका है।​ उपस्थित लोगों को जागरूक करते हुए अपने संबोधन में कहा कि जो लोग कानून का विरोध कर रहे हैं वह कानून के बारे में अच्छी तरह जानते और समझते भी हैं, लेकिन राजनीतिक फायदा लेने के लिए दुष्प्रचार कर लोगों को भड़काने का प्रयास कर रहे हैं। कुछ लोगों को कानून के बारे में सही जानकारी नहीं है। कुछ शातिर राजनीतिक दल लोगों में असुरक्षा की भावना उत्पन्न कर अपना उल्लू सीधा कर रहे हैं।​
मनीष ग्रोवर ने कहा कि यह कानून देश की नागरिकता देने का है न कि नागरिकता लेने का। उन्होंने कहा कि उपद्रव व हिंसा केवल भाजपा शासित राज्यों में ही क्यों हो रहा है इससे पूरी बात अच्छी तरह से स्पष्ट हो जाती है। उन्होंने कहा कि पिछले हफ्तों से कांग्रेस व वामपंथी विचारधारा के कामरेड, मुस्लिम कट्टरपंथी लोग व मुस्लिम प्रेमी कही जाने वाली कई प्रादेशिक पार्टियों ने मिलकर देश को जलाने का काम किया है। देश में लोगों में उनके प्रति गहरी नफरतत व घृणा भी उत्पन्न हुई है। देश में एक तार्किक सोच व समझ भी विकसित हुई है।​
जिला अध्यक्ष अजय बंसल ने सीएए कानून की उपयोगिता सिद्ध करते हुए कहा कि पाकिस्तान में ननकाना साहिब में हुई घटना के बाद भारत में उन लोगों की आंखें खुल जानी चाहिएं जो अपना राजनीतिक उल्लू सीधा करने के लिए इसका अंध विरोध कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान, अफगानिस्तान व बांग्लादेश में बचे हुए हिंदू, सिख भारत की ओर नहीं देखेंगे तो वो ओर कहां जाएंगे। क्या मानवता इतनी निम्र स्तर पर पहुंच जाएगी कि हम निर्दयतापूर्वक आंखें बंद कर यह सब देखते रहेंगे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।