ननकाना साहिब गुरुद्वारे पर पत्थरबाज़ों के खिलाफ पाकिस्तान सरकार कार्यवाही न करने से सिखों द्वारा रोष प्रदर्शन
January 5th, 2020 | Post by :- | 94 Views

अंबाला , मुलाना ( गुरप्रीत सिंह मुल्तानी ) ।   सिखों के पवित्र स्थान एवं श्री गुरु नानक देव जी के जन्मस्थल ननकाना साहिब पाकिस्तान गुरुद्वारे पर पत्थरबाज़ी  करने वाले लोगों के खिलाफ पाकिस्तान सरकार द्वारा कार्यवाही न किये जाने से नाराज अम्बाला जगाधरी मुख्य मार्ग स्थित दोसड्का चोक पर आज बाबा बंदा सिंह बहादुर एवं राष्ट्र जागरण मंच सहित आस पास के अनेक गांव के सिखों ने इक्क्ठे  होकर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन में कांग्रेस पार्टी के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष फूल चंद मुलाना एवं जननायक जनता पार्टी के युवा शहरी प्रधान पवनीत सिंह ने विशेष तोर पर शिरकत की। प्रदर्शन की अध्यक्षता कर रहे जसबीर सिंह खालसा एवं बाबा बन्दा सिंह बहादुर दल के प्रधान राजिंदर सिंह डुलियाना ने कहा की पाकिस्तान मे सिखों पर अनेक अत्याचार हो रहे हैं। राष्ट्र जागरण मंच के प्रदेशाध्यक्ष जरनैल सिंह जैली ने कहा की पाकिस्तान सरकार अल्पसंख्यक सिखों की ओर कोई ध्यान नहीं दे रही । आए दिन वहां पर सिख समुदाय व गुरुद्वारों को निशाना बनाया जा रहा है। मौके पर पहुंचे कांग्रेस पार्टी के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष फूल चंद मुलाना ने कहा की बहुत ही निंदनीय घटना हैं। उन्होंने कहा की सिखों का अपमान पुरे भारत का अपमान हैं। गुरुद्वारा साहिब में हर धर्म का व्यक्ति शीश निवाता हैं। मुलाना ने कहा की पकिस्तान को होश में रहना चाहिए अपनी औकात से बाहर न जाये , पाकिस्तान नहीं तो अंजाम सही नहीं होगा।

इस मौके पर राष्ट्र जागरण मंच के संस्थापक अमरिंदर सिंह ने कहा कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान इस मामले में गंभीरता नहीं दिखा रहे, चुप्पी साधे हुए हैं । भारत सरकार को भी चाहिए कि वह उच्च स्तरीय बैठक बुलाकर पाकिस्तान सरकार पर कार्रवाई के लिए दबाव बनाएं। पाकिस्तान की इस कायरता पूर्वक हरकत का हम पुरज़ोर विरोध करेंगे यदि 20 दिन के भीतर पाकिस्तान सरकार ने कोई कार्यवाही नहीं की तो हम दिल्ली में पाकिस्तान दूतावास के आगे भी धरना देने से पीछे नहीं हटेंगे। अमरिंदर सिंह ने कहा कि पाकिस्तान में पिछले कुछ वर्षों के दौरान सिखों पर अत्याचार बढ़े हैं वहां पर अल्पसंख्यकों से जबरन धर्म परिवर्तन करवाया जा रहा है सिखों के बच्चे भी महफूज नहीं है। प्रदर्शन के दौरान पाकिस्तान का झंडा जलाया गया। और पकिस्तान सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गयी। इस मोके पर प्रसिद्ध समाजसेवी मनदीप सिंह बोपाराय , प्रलाद सिंह, गुरमीत सिंह , चयेरमेन प्र्वीण चौहान, रमेश कुमार , महासचिव अमरजीत सिंह गुलाटी, नवाब सिंह, गगन्दीप सिंह, गुरप्रीत सिंह, अमनदीप सिंह रिंकु, लखा सिंह, सरबजीत सिंह दिखू, अमनिंदर सिंह, गुरकीर्त सिंह, अरजिंदर सिंह सोनू सहित सेंकडो की संख्या में सिख समुदाय मौजूद रहा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।