उपार्जन केन्द्रों में संग्रहित धान को बारिश से सुरक्षित रखने पुख्ता इंतजाम करें – कलेक्टर
January 5th, 2020 | Post by :- | 112 Views
कोंडागांव@नरेशजैन—
                              जिले में अब तक 4 लाख 90 हजार 537 क्विंटल धान की हुई खरीदी धान के अवैध परिवहन के                                        रोकथाम के लिए प्रभावी कार्यवाही के दिए निर्देश
राज्य में हो रही बेमौसम बारिश के चलते मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने धान उपार्जन केन्द्रों में रखे धान को बचाने के लिए समुचित इंतजाम करने के निर्देश सभी जिला कलेक्टरों को दिए है। साथ ही मुख्यमंत्री ने किसानों को सलाह दी है कि वे अपने धान को मौसम देखकर ही धान खरीदी केन्द्रों में बेचने लाए ताकि धान में नमी न आने पाए। मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार कलेक्टर  नीलकंठ टीकाम द्वारा आज कलेक्ट्रेट के प्रथम तल स्थित सभागार में अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व), तहसीलदार, पटवारी, राजस्व निरीक्षक, लैम्पस मैनेजर, सहकारिता निरीक्षक, खाद्य निरीक्षको की आवश्यक बैठक आयोजित की गई थी।
बैठक में कलेक्टर ने जिले के सभी 44 धान खरीदी केन्द्रों में सावधानी बरतने के निर्देश संबंधित विभाग के अधिकारियों को दिये। उन्होंने कहा कि वर्तमान में धान खरीदी की प्रक्रिया का सुव्यवस्थित संचालन शासन की सर्वोच्च प्राथमिकता में है। अतः सभी संबंधित अधिकारी-कर्मचारियों द्वारा किसी भी प्रकार की कोताही न बरती जाये। साथ ही जिले की सीमावर्ती क्षेत्रों में धान की अवैध परिवहन की रोकथाम के लिए प्रभावी कार्यवाही करते हुए हर छोटे-बड़े मार्ग पर कड़ी चैकसी रखे। चूंकि जिले में 32 हजार कृषको ने धान विक्रय हेतु अपना पंजीयन कराया है जिसमें 48 हजार रकबा शामिल है। इसके साथ ही सभी पटवारियों द्वारा कृषको के द्वारा रकबा समर्पण की कार्यवाही भी लगातार अद्यतन की जानी चाहिए। बेमौसम बारिश के मद्देनजर कलेक्टर ने कहा कि उपार्जन केन्द्रों में पानी निकासी की भी समुचित व्यवस्था करें ताकि निचले हिस्से का धान खराब न होने पाए। धान की बोरियों को कतारबद्ध ढंग से जमीनी सतह से ऊपर रखने के निर्देश संबंधित विभाग के अधिकारियों को दिये है। उन्होंने कहा कि बारिश के मद्देनजर धान के स्टेक्स को तत्काल कैप कवर लगाये, स्टेक्स के आस-पास पानी का ठहराव न हो अतः व्यवस्थित ड्रेनेज की व्यवस्था सुनिश्चित की जाये। उल्लेखनीय है कि वर्तमान में खरीफ विपणन वर्ष 2019-20 में कोण्डागांव जिले के 44 उपार्जन केन्द्रों में 4 लाख 90 हजार 537.80 क्ंिवटल धान खरीदी हुई है। जबकि 94 हजार 680 किवंटल धान का परिवहन किया जा चुका है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।