सेक्टर-4 निवासी नसीब सिंह का एचसीएस में चयन
December 27th, 2019 | Post by :- | 115 Views
पंचकूला, ( महिन्द्र पाल सिंहमार )    ।      सेक्टर-4 निवासी नसीब सिंह का हरियाणा सिविल सर्विसेज(एचसीएस) में चयन को लेकर सैक्टर वासियों में खुशी का महौल है। नसीब सिंह सैक्टर के मकान नंबर 551 में रहते हैं। नसीब ने कहा कि सिविल सर्विसेज में आकर वह बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के नारे को साकार करना चाहाते है। बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के नारे को अपना योगदान देना चाहते हैं। नसीब सिंह की दो बेटियां निधि और अपूर्वा इन्हें आगे बढने की प्रेरणा देती है।
पंजाब विश्वविद्यालय से कानून विभाग से एलएलबी करने वाले नसीब कुमार का एचसीएस में चयन हुआ है। नसीब एक साधारण किसान परिवार से है। सेना में नौकरी के बाद पंजाब विश्वविद्यालय के कानून विभाग से 75 फीसदी अंकों के साथ एलएलबी की डिग्री हासिल की। नसीब सिंह अम्बाला जिले के शहजादपुर राजकीय महाविद्यालय में एसीस्टेंट प्रोफेसर के पद पर तैनात है। मूलरूप से दादरी जिले के गांव खातीवास निवासी है। भारतीय सेना में भी इनका केवल 17 साल की उम्र में चयन हुआ और देश की सेवाएं के बाद अब एचसीएस बनकर प्रदेश के लोगों की सेवा करने का मौका मिला है। एमए अंग्रेजी और एमए पालिटिकल साइंस करने के बाद इन्होंंने हरियाणा पब्लिक सर्विस कमीशन के तहत 2017 में असिस्टेंट प्रोफेसर के पद पर नियुक्ति हासिल की। इस परीक्षा में भी नसीब मेरिट लिस्ट में टॉप 10 में रहे।
नसीब ने एक बहुत ही साधारण किसान परिवार से तालुक रखते हैं। हरियाणा के चरखी दादरी जिले के सरकारी स्कूल से शुरुआती पढ़ाई की। पंजाब यूनिवर्सिटी के लॉ विभाग से 2014-17 सत्र में 75 फीसद अंकों के साथ एलएलबी की डिग्री हासिल की। पंजाब यूनिवर्सिटी लाइब्रेरी में घंटों तैयारी करने वाले नसीब ने कहा कि ऐसी परीक्षा के लिए लगातार और पूरी लगन के साथ तैयारी की जरुरत होती है। उन्होंने कहा कि एक साधारण परिवार से होते हुए भी उनके चयन से दूसरे युवाओं को भी प्रेरणा मिलेगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।