महाराजा सूरजमल का मनाया 256वाँ बलिदान दिवस शौर्य मार्च निकाल कर एव श्रद्दासुमन अर्पित कर किया गौरव गान
December 26th, 2019 | Post by :- | 123 Views

संवाददाता शौकत अली

नदबई कस्बे में भरतपुर संस्थापक हिन्दू ह्रदय सम्राट वीर शिरोमणि महाराजा सूरजमल का 256 वां बलिदान दिवस मुख्य बाजार होकर शौर्य मार्च निकाला गया।
जिसमे नगर पालिका अध्यक्ष बालमुकंद बिहारिया ने हरी झंडी दिखाकर शौर्य मार्च को रवाना किया।
महाराजा सूरजमल जी का शौर्य मार्च रेलवे स्टेशन से शुरू होकर मुख्य बाजार होते हुए महाराजा सूरजमल सर्किल पर पहुचा जहा मुख्य बाजार में कस्बे बसियो ने जगह जगह पुष्प वर्षा कर शौर्य मार्च का अभिवादन किया इस दौरान युवा नेता गुलवीर फ़ौजदार ने महाराजा सूरजमल के व्यक्तित्व कृतित्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि सूरजमल सर्वस्पर्शी मर्मस्पर्शी के साथ धीरता वीरता गंभीरता का अद्भूत समिश्रण उनके व्यक्तित्व की विलक्षण विशेषता रही जिसके चलते वो युगदृष्टा थे।इसी कारण वो अजेय रहे।पानीपत की तीसरी लडाई में घायल मराठाओं की तीमारदारी के साथ उनके सकुशल वापसी पर उन्हें अन्न धन वस्त्र आदि देना उनकी दानशीलता के साथ मानवीय संवेदना की अद्भूत विशेषता को दर्शाता है।समाज का हर जाति वर्ग समुदाय आज भी उनके यशोगान के साथ गौरवमयी गाथा गाता है।
जहाँ पर युवाओ ने महाराजा सूरजमल की तस्वीर पर माल्यार्पण के साथ श्रृद्धासुमन अर्पित कर शौर्यपरक गौरवमयी भावभीनी श्रृद्दाजंलि दी
इस दौरान जोगेन्द्र जाट, जिला परिषद सदस्य पुष्पेंद्र करीली, नगर पालिका अध्यक्ष बालमुकंद बिहारिया, भाजपा नेता रोहित उपाध्याय, टीटू जाट, जोगेन्द्र फ़ौजदार, योगेन्द्र रायसिस, नरेंद्र फ़ौजदार, बंटी करीली, गज्जो करीली,चुंबन फ़ौजदार, रणवीर फ़ौजदार, जीतेन्द्र ठाकुर,सोहित खांगरी, सचिन देशवाल, निखिल रौनीजा , विष्णु गुर्जर, भरत कसाना, आदि कार्यकर्ता मोजूद रहे है

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।