बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ, पोक्सो एक्ट, सोशल मीडिया पर आई शिकायतों का निपटारा प्राथमिकता के आधार पर करें अधिकारी-डीसी अशोक कुमार शर्मा।
December 26th, 2019 | Post by :- | 89 Views

अम्बाला, अशोक शर्मा

बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ, पोक्सो एक्ट, सोशल मीडिया पर आई शिकायतों, सक्षम, महिला सुरक्षा, पीएनडीटी, सीएम विंडो पर आई शिकायतों का निपटारा प्राथमिकता के आधार पर करें अधिकारी–किसी भी प्रकार की लापरवाही के लिए खुद होंगे जिम्मेदार:-डीसी अशोक कुमार शर्मा।
-चण्डीगढ से मुख्यमंत्री गुड गवर्नंेस के प्रोजैक्ट डायरैक्टर राकेश गुप्ता द्वारा आयोजित वीसी में मिले निर्देशों की अनुपालना में डीसी ने वीसी के बाद ली अधिकारियों की बैठक–निर्देशित कार्यों को लग्न से पूरा करने के दिए निर्देश।
अम्बाला, 26 दिसम्बर:- डीसी अशोक कुमार शर्मा ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे जिला में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर चल रही रणनीति को मजबूत करते हुए बेहतरीन कार्य करके दिखाएं। बेटी बचाओ-बेटी पढाओ विषय को लेकर भी तत्परता से कार्य करने की जरूरत है। पोक्सो एक्ट को भी सुचारू रूप से लागू किया जाना लाजमी है। इन विषयों को लेकर किसी भी प्रकार की लापरवाही के लिए सम्बन्धित अधिकारी खुद जिम्मेदार होंगे। डीसी चण्डीगढ़ से मुख्यमंत्री गुड गवर्नेंस के प्रोजैक्ट डायरैक्टर राकेश गुप्ता द्वारा आयोजित वीसी में मिले निर्देशों की अनुपालना में वीसी के बाद आयोजित बैठक में अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दे रहे थे। डीसी ने कहा कि सरकार की जनहित की कल्याणकारी योजनाओं को प्राथमिकता के आधार पर लागू करना हम सबकी सांझी जिम्मेदारी है। इस विषय को लेकर किसी भी प्रकार की कौताही कतई नहीं होनी चाहिए।
बैठक में डीसी ने वीसी में मिले निर्देशों की अनुपालना में अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे सीएम विंडो पर आई शिकायतों का प्राथमिकता के आधार पर निपटारा करें। किसी भी विभाग की सीएम विंडो से सम्बन्धित शिकायत लम्बित नही होनी चाहिए। पीएनडीटी विषय को लेकर प्राथमिकता के आधार पर काम करने की जरूरत है। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि सभी कार्य निर्धारित समय पर पूरा करने के लिए एक रूपरेखा तैयार करें और उस पर तुरंत प्रभाव से काम शुरू कर दें। उन्होने यह भी कहा कि सोशल मीडिया पर जो भी शिकायतें आती है उनका निपटारा भी समयबद्ध तरीके से लाजमी है। उन्होंने अधिकारियों को स्पष्ट रूप से यह भी कहा कि वर्ष 2016-17 व 18 की सीएम विंडो से सम्बन्धित कोई भी शिकायत लम्बित नहीं रहनी चाहिए, सभी विभाग यह सुनिश्चित कर लें। रोड़ सेफ्टी विषय को लेकर जागरूकता अभियान में तेजी लाई जाये। लोगों को समझाया जाये कि वे नशे में गाड़ी न चलाएं, धुंध के समय रिफ्लैक्टर इत्यादि का प्रयोग करें और वाहन चलाते समय सावधानी बरती जाए। उन्होंने अधिकारियों को कहा कि वे समय-समय पर इस विषय को लेकर बैठक आयोजित करते रहें।
बैठक में उपस्थित शिक्षा विभाग के अधिकारियों को निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि जिला के सभी ब्लाकों में शिक्षा विभाग के अधिकारी और शिक्षक बच्चों को उनकी कक्षा के अनुरूप सक्षम बनाने की ओर विशेष ध्यान दें। सभी खंडों में बच्चों को कक्षा अनुरूप सक्षम बनाया जाये इसके लिए सम्बन्धित अधिकारियों के साथ-साथ सम्बन्धित खंडो के उपमंडल अधिकारी भी स्कूलों में बैठक लेकर जागरूकता का काम करें। उन्होंने यह भी कहा कि जिला शिक्षा अधिकारी भी समय-समय पर किए गये कार्यों की समीक्षा करें।
वन स्टॉप सैंटर महिलाओं की सुरक्षा के लिए तथा पीडि़त महिलाओं को संरक्षण देेने के लिए बनाया गया है। इसमें यदि कोई महिला अपनी शिकायत लेकर आती है तो निर्धारित मापदण्ड के तहत उसको संरक्षण दिया जाये। जिला कार्यक्रम अधिकारी को निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि वे समय-समय पर उस स्थान का दौरा करें। आंगनवाडी कार्यकर्ताओं के माध्यम से महिलाओं को वन स्टॉप सैंटर की लोकेशन बताई जाये ताकि सम्बन्धित को सुरक्षा प्रदान हो सके। उन्होंने यह भी कहा कि स्वच्छ सर्वेक्षण के कार्य को सुचारू रूप से लागू किया जाये। समाजसेवी संस्थाओं का भी इस कार्य में सहयोग लिया जाये। पंचायती राज संस्थाओं को भी इस विषय को लेकर जागरूक किया जाना जरूरी है। उन्होंने यह भी बताया कि मुख्यमंत्री गुड गवर्नेंस के प्रोजैक्ट डायरैक्टर राकेश गुप्ता अगले वर्ष जनवरी के अंत में इन्हीं विषयों के दृष्टिगत एक बैठक लेंगे इसलिए सभी अधिकारी अभी से अपनी तैयारी कर लें। आयोजित वीसी में पीएनडीटी के तहत अच्छा कार्य करने के चलते डिप्टी सिविल सर्जन बलविन्द्र कौर को राकेश गुप्ता द्वारा शाबासी भी दी गई और कहा कि वे और बेहतर कार्य करके दिखाएं। सीएम विंडो पर अम्बाला का स्कोर 63 होने के चलते राकेश गुप्ता ने वीसी में कहा कि अगली मीटिंग तक यह स्कोर 75 से उपर आना चाहिए। इस मौके पर एडीसी जगदीप ढांडा, एसडीएम सुभाष चंद्र सिहाग, एसडीएम भारत भूषण कौशिक, एसडीएम गौरी मिड्डा, सीटीएम कपिल शर्मा सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।