बद्दी ! पढ़ाई के साथ-साथ खेलों में बढ़-चढक़र भाग लें विद्यार्थी : चंद्रेश्वर शर्मा
December 25th, 2019 | Post by :- | 94 Views

बद्दी के निकट मलकूमाजरा स्थित भोजिया विद्यालय पीठ विद्यालय द्वारा वार्षिक समारोह का आयोजन किया गया जिसमें मुख्य अतिथि के तौर पर संयुक्त निदेशक उच्च शिक्षा डा. चंद्रेश्वर शर्मा ने शिरकत की । सर्वप्रथम की प्रधानाचार्य गौरी चढड ने विद्यालय चलाई गई शैक्षणिक सांस्कृतिक एवं खेल गतिविधियों पर विस्तार से प्रकाश डाला और संतोष प्रकट किया। उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि विद्यालय के छात्र-छात्राएं सर्वागीण विकास के लिए प्रयासरत है हर बरस विद्यालय के छात्र अव्वल नंबरों के साथ पास होते आ रहे हैं। इस मौके पर विद्यालय के छात्र-छात्राओं द्वारा हिमाचली नाटी, राजस्थानी, पंजाबी भांगड़ा, हरियाणवी अन्य रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किए। मुख्य अतिथि ने चंद्रेश्वर शर्मा ने अपने संबोधन में कहा कि बच्चे आने वाले कल का भविष्य हैं इसलिए बच्चों को पढ़ाई के साथ साथ खेलकूद में भी बढ़-चढक़र भाग लेना चाहिए जिससे शारीरिक व मानसिक विकास होता है। अभिभावकों को भी चाहिए कि वह बच्चों को सामाजिक कार्यों में भाग लेने के लिए प्रेरित करें । संयुक्त निदेशक ने अध्यापकों को भी संदेश दिया कि वह भी 3 डी के फार्मूले यानि डयूटी, डैडीकेशन व डिटरमीनेशन पर काम करे तो शिक्षा का स्तर अपने आप उपर उठ जाएगा। भोजिया समूह के सचिव विक्रम भोजिया ने यहां चलाए जा रहे डेंटल कालेज एवं अस्पताल के अलावा विद्यालय के कार्यकलापों के बारे में विस्तार से अवगत कराया। उन्होने कहा कि हमारा समूह शुरु से ही इस बात को लेकर सजग रहता है कि उनके यहां बच्चे को हर वह शिक्षा व संस्कार मिले जो कि देश, समाज व राष्ट्र के विकास में सहयोगी हों। इस अवसर पर विद्यालय के मेधावी व उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले छात्रों को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर मलपुर पंचायत के उपप्रधान गुरदास सिंह चंदेल, अजेंद्र प्रताप सिंह कार्यक्रम के दौरान अध्यापक अध्यापिकाओं व अभिभावकों सहित गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।कैपशन-भोजिया विद्यापीठ में मेधावी छात्रों को सम्मानित करते संयुक्त निदेशक चंद्रेश्वर शर्मा और साथ में भोजिया के सचिव विक्रम भोजिया व वनिता भोजिया।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।