जनभावना के विपरित बनाई गई है सरकार इस लिए सत्ता के विधायकों में है छटपटाहट” : दीपेन्द्र हुड्डा
December 25th, 2019 | Post by :- | 110 Views

बहादुरगढ़ लोकहित एक्सप्रेस ब्यूरो चीफ (गौरव शर्मा)

  • गलत नीतियों से आर्थिक दुर्दशा की मार झेल रहे गरीब और नौजवान।
  • दीपेंद्र हुड्डा ने मतदाताओं का हर कदम पर साथ देने के लिये किया धन्यवाद
  • कहा लोकहित नहीं, सिर्फ सत्ता ही इनका कॉमन मिनिमम प्रोग्राम
  • पौने 2 करोड़ मतदाताओं वाले प्रदेश में मात्र 4256 वोट और मिलते तो हरियाणा में कांग्रेस की सरकार बनती

बहादुरगढ़, 25 दिसंबर। CWC सदस्य दीपेन्द्र हुड्डा ने आज प्रदेशव्यापी धन्यवादी दौरे के अगले चरण में बहादुरगढ़ हलके में मतदाताओं का आभार व्यक्त किया।

दीपेंद्र ने कहा कि जनभावना के विपरित बनाई गई है सरकार इस लिए सत्ता के विधायकों में है छटपटाहट। दीपेन्द्र ने कहा, महाराष्ट्र और झारखण्ड की तरह हरियाणा ने भी परिवर्तन के लिए वोट किया था पर सत्ता के लिए कुछ लोगों ने लोकमत का अनादर किया। सरकार बने 2 महीने बीत गये लेकिन अभी तक कॉमन मिनिमम प्रोग्राम भी नहीं आया। लगता है हरियाणा की जनता के लिये कॉमन मिनिमम प्रोग्राम नहीं सत्ता में शामिल लोगों के स्वार्थ का कॉमन मिनिमम प्रोग्राम है। इनका मकसद लोकहित नहीं, सिर्फ सत्ता में बने रहना है।

लोकसभा चुनाव में सोनीपत से चौ. भूपेंद्र सिंह हुड्डा के खिलाफ दिग्विजय चौटाला के चुनाव लड़ने के संदर्भ में राम कुमार गौतम द्वारा दिये गये बयान पर दीपेंद्र हुड्डा ने प्रतिक्रिया देते हुये कहा कि इससे स्पष्ट है कि जजपा भाजपा की एजेंट बनके उनको लाने में लगी हुई थी।

उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा सरकार की गलत नीतियों के चलते गरीब और नौजवान आर्थिक मार झेल रहे हैं। 75 प्रतिशत हरियाणवी लोगों को नौकरी देने का ढिंढोरा पीटने वाली सरकार पहले ये बताये कि मंदी के कारण कितने लोगों की नौकरी गयी। मारुति तथा होंडा जैसी कंपनियों से हजारों लोगों की नौकरियां छिन गयीं हैं। सरकार नौकरी से हटाये गये लोगों का ब्यौरा दे।

दीपेन्द्र हुड्डा ने कहा कि विधानसभा चुनाव के दौरान लोगों ने हर कदम पर उनका साथ दिया और जिन हलकों में वो प्रचार के लिये गये, उनमें अधिकांश स्थानों पर जनता ने कांग्रेस प्रत्याशियों को जिताकर विधानसभा में भेजा है। जनता से मिले अपार स्नेह और आशीर्वाद के लिये उन्होंने प्रदेश के मतदाताओं का आभार जताया। उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव में कांटे की टक्कर थी और पौने 2 करोड़ मतदाताओं वाले प्रदेश में मात्र 4256 वोट और मिलते तो विधानसभा में कांग्रेस सबसे बड़ा दल होती तथा सरकार बनाती। हरियाणा के आम मतदाताओं में इस बात का व्यापक रोष कायम है कि प्रदेश भर में झूठे सर्वे प्रचारित किये गये, जिससे लोगों में भ्रम की स्थिति बनी। दीपेन्द्र हुड्डा ने कहा कि प्रदेश की जनता आर्थिक मंदी, महंगाई, किसानों की ख़स्ता हालत, खतरनाक रूप ले चुकी बेरोज़गारी और बीजेपी सरकार की जनविरोधी नीतियों से त्रस्त हो चुकी है।

उन्होंने कहा कि हरियाणा की जनभावना भाजपा के खिलाफ थी। लेकिन सत्तालोलुपता के चलते भाजपा और जजपा ने जनभावनाओं को नकारकर सरकार बनायी है। हम मजबूत विपक्ष की भूमिका निभाने का काम करेंगे। सड़क से संसद तक जनता के हित की आवाज़ उठायेंगे, जनता और जनभावना हमारे साथ है। सरकार बनते ही भाजपा की उलटी गिनती शुरु हो गयी है। खट्टर-2 सरकार में एक के बाद एक घोटाले उजागर हो रहे हैं। यह सरकार पूरी तरह से घोटालों में घिरी हुई है। विधानसभा में रखी गयी कैग की रिपोर्ट से भी साफ हो गया है कि भाजपा सरकार ने ठेकेदारों व खनन माफियाओं से मिलीभगत करके हरियाणा के राजस्व को 1476 करोड़ का नुकसान पहुंचाया है। हमारे अंदाजे से यह खनन घोटाला कई हजार करोड़ रुपये का है। इसके अलावा इस सरकार ने सत्ता में आते ही करोड़ों रुपये के घान घोटाले को अंजाम देने का काम किया है।

कार्यकर्ता सम्मेलन के आयोजक कांग्रेस विधायक राजेंद्र सिंह जून ने सम्मेलन में पहुंचे बूथ एंजेटों व कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि सभी ने अपनी अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन पूरी निष्ठा से किया जिसके परिणाम स्वरूप आज वे हरियाणा विधानसभा में तीसरी बार बहादुरगढ़ हलके का नेतृत्व कर रहे है। विधायक राजेंद्र जून ने कहा कि कार्यकर्ताओं की मेहनत व जनता के आशीर्वाद से बहादुरगढ़ हलके की जनता ने 15491 वोटो से उन्हें विजयी बनाया है इसके लिए बहादुरगढ़ विधानसभा के तमाम बूथ एंजेट, कार्यकर्ताओं व हलके की सम्मानित जनता का तहे दिल से आभार जताते है। विधायक राजेंद्र जून ने कहा कि कार्यकर्ता पार्टी की रीढ़ है और कार्यकर्ताओं को पूरा मान सम्मान दिया जाएगा।

इस दौरान विधायक राजेंद्र जून, विधायक गीता भुक्कल, विधायक कुलदीप वत्स, राजेश जून, रवि खत्री, सतपाल राठी, युवराज छिल्लर ने भी जनसभा को संबोधित किया।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।