पाकिस्तानी आतंकवादी ने कहा शांडिल्य जहां तिलक लगाता है वही तेरे गोली मारूंगा इंतजार कर 
December 25th, 2019 | Post by :- | 128 Views

अम्बाला, ( सुखविंदर सिंह ) शण्डिल्य जहां तू तिलक लगाता है वही पर गोली मारूंगा इंतज़ार कर यह धमकी एंटी टेररिस्ट फ्रंट इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष एव श्री हिन्दू तख्त के राष्ट्रीय प्रचारक वीरेश शण्डिल्य को पाकिस्तान से उनके मोबाइल नम्बर आई । शांडिल्य ने पाक से आई इस धमकी की सूचना तुरंत अम्बाला सिटी पुलिस को दी और थानाध्यक्ष राजेश कुमार व पुलिस चौंकी नम्बर -4 के इंचार्ज रोहताश, एसआई वीरभान व एएस आई लालचंद शांडिल्य के निवास पर पुहंचे व आई धमकियों को सुना ओर वीरेश शांडिल्य के बयान दर्ज कर मंगलवार देर रात को थाना शहर में पाक आतंकी की धमकी पर मुकदमा नम्बर 0505 भारतीय दंड सहिंता की धारा 506 के तहत दर्ज की।  

एंटी टेररिस्ट फ्रंट इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष एव श्री हिन्दू तख्त के राष्ट्रीय प्रचारक वीरेश शण्डिल्य ने बताया कि  “पाक आतंकी ने कहा कि जब इशारा करेंगे यही बैठे काम करवा देंगे,ज्यादा दिन नही बस “पाक नंबर से धमकी देने वाले ने शांडिल्य को कहा सिर्फ एक गोली तेरे तिलक के ऊपर ओर तेरी कहानी खत्म।

एन्टी टेररिस्ट फ्रंट इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष वीरेश शण्डिल्य ने मीडिया को बताया कि उन्हें व उनके परिवार को लगातार पाक आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा मौत के घाट उतारने की धमकियां दे रहे हैं जिस पर पहले भी अम्बाला शहर पुलिस एफआई आर नम्बर 246/16,एफआईआर नम्बर 267/18  व एफआईआर नम्बर 0350/19 दर्ज कर चुकी हैं  और 24 दिसम्बर 19 को फिर अम्बाला पुलिस ने पाक आतंकी धमकी के बाद एफआईआर 0505 दर्ज की है लेकिन अम्बाला पुलिस उनकी व उनके परिवार की सुरक्षा को लेकर गंभीर नही है जबकि वो पिछले 20 साल से पाक आतंकवाद के खिलाफ व  खालिस्तानी मूवमेंट व बब्बर खालसा आतकवादी संगठन की मुहिम के खिलाफ खुल कर बोलते हैं । 

शांडिल्य इस बारे राज्य के गृहमंत्री अनिल विज को भी मिले और मिल रही पाक धमकियों की जानकारी लिखित दी और सुरक्षा देने की मांग की । शांडिल्य ने गृह मंत्री को बताया कि वह आतंकवाद के खिलाफ पूरे उत्तर भारत मे मुहिम छेड़े हुए हैं और पाक आतंकी व भारत मे सक्रिय आतंकी संगठनो उन्हें कही भी अपना निशाना बना सकते हैं ।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।