बंद हो सकते हैं दिल्ली के दरवाजे, एनसीआर में बसे 80 लाख मेवातियों का ऐलान
December 25th, 2019 | Post by :- | 97 Views

मेवात (सद्दाम हुसैन) दिल्ली एनसीआर में बसे 80 लाख मेवातियों को एकजुट करने के लिए मेवात क्षेत्र में 7 बड़े प्रदर्शन करने का निर्णय मंगलवार को लिया गया। भनक लगते ही हरियाणा सरकार ने आपात बैठक मेवात के जिला प्रशासन के साथ की। इन प्रदर्शनों को सही सलामत निपटाने के लिए सुरक्षा के कड़े इंतजाम कर दिए गए। अलग से मेवात क्षेत्र में पुलिस की कंपनियां तैनात करने की बात है। नागरिक कानून और एनआरसी के विरोध में देरशाम एक बड़ा फैसला मेवात की राजधानी कहे जाने वाले बड़कली चौक पर मेवात क्षेत्र के सामाजिक संगठनों ने लिया। उल्लेखनीय है कि पहले भी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार के अलावा मेवात में 18 दिसंबर को हुए प्रदर्शन में लाखों लोगों के पहुंचने पर देशभर में चर्चा हुई थी जिसे देखते हुए हरियाणा सरकार इन प्रदर्शनों को हल्के में नहीं लेना चाहता है।

मेवात विकास सभा के बैनर तले सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष सलामुद्दीन एडवोकेट ने बताया कि बड़े स्तर पर होने वाले पहले प्रदर्शन की शुरुआत बुधवार 25 दिसंबर को जमालगढ़ से पुन्हाना के बीच होगी। जिसमें हजारों की तादाद में लोग हिस्सा लेंगे तथा 27 दिसंबर को रंगाला गांव से फिरोजपुर झिरका, 29 दिसंबर को मांडीखेड़ा गांव से बड़कली चौक, 31 दिसंबर को उटावड़ मोड से रुपडाका शहीदी मीनार, 3 जनवरी को शहीदी पार्क से मिनी सचिवालय, 5 जनवरी को छारोड़ा से तावडू तथा 7 जनवरी को खानपुरघाटी से पिनगवां तक पैदल मार्च होगा। मेवात विकास सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष सलामुद्दीन एडवोकेट नोटकी ने कहा कि 7 प्रदर्शनों की तारीख तय कर दी गई है और 9 जनवरी को दिल्ली मार्च का निर्णय लिया जाएगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।