अम्बाला शहर के विधायक असीम गोयल ने कहा कि विकास के मामले में अम्बाला शहर विधानसभा क्षेत्र को अग्रणी हलका बनाया जायेगा
December 21st, 2019 | Post by :- | 85 Views

अम्बाला, ( सुखविंदर सिंह ) अम्बाला शहर के विधायक असीम गोयल ने कहा कि विकास के मामले में अम्बाला शहर विधानसभा क्षेत्र को अग्रणी हलका बनाया जायेगा। उन्होंने हमेशा विकास व भाईचारे की राजनीति करते हुए शहरी विधानसभा क्षेत्र के समान रूप से विकास कार्यों को करवाने का काम किया है। उन्होंने कहा कि पिछले पांच वर्षों में भाजपा सरकार के शासनकाल में करोड़ों रूपये की राशि के विभिन्न विकास के कार्य विधानसभा क्षेत्र में हुए हैं।
विधायक श्री गोयल आज गांव भानोखेड़ी, लखनौर साहिब, बेगो माजरा, बहबलपुर, रवालों व लदाणा मे आयोजित कार्यक्रमों में ग्रामवासियों को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने विधानसभा चुनाव में दोबारा से विजय दिलाने के लिए मतदाताओं का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि जनता ने एक बार फिर से जो उन पर विश्वास व्यक्त किया है उस पर वे खरा उतरेंगे और लोगों की उम्मीदों से बढकर लोगों के विकास कार्य करवायेंगे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल के कुशल नेतृत्व में हरियाणा में बिना किसी भेदभाव के एक समान विकास के कार्य हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि विकास कार्यों के लिए धन की कमी नहीं आने दी जायेगी। उन्होंने कहा कि चुनाव में यदि वे किसी गांव में पीछे रह गये हैं तो उस गांव का भी समान रूप से विकास करवाया जायेगा। उनका पूरा प्रयास है कि शहरी विधानसभा क्षेत्र हरियाणा का सबसे बेहतर हल्का बने, इसके लिये वे विकास कार्यों को तेजी से करवाने का काम करेंगे। 
इस मौके पर उन्होंने मुख्यमंत्री की ओर से गांव भानोखेड़ी मे 5 लाख, लखनौर साहिब में 7 लाख रुपये, बेगो माजरा, बहबलपुर, रवालों व लदाणा में 5-5 लाख रूपये की राशि गांव के विकास कार्यों के लिए देने की घोषणा की।
इस मौके पर मंडल अध्यक्ष मनदीप राणा, सुरेश सहोता, हितेन्द्र चौधरी, धु्रव त्रिखा, सोमनाथ, अनिल गुप्ता, राजेश गोयल, संजीव टोनी, रणदीप रिंकू भानोखेड़ी, संदीप सचदेवा, सुरेन्द्र गुलाटी, रणधीर सिंह, जसविन्द्र उगाड़ा, जसवंत सिंह, गुरविन्द्र नम्बरदार, गुरविन्द्र मानकपुर, दिनेश लदाना, राजेश शर्मा, अर्पित अग्रवाल सहित अन्य गणमान्य लोग मौजूद थे। 

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।