खेड़ा-खलीलपुर गांव में किसान मेले का आयोजन किया गया
December 21st, 2019 | Post by :- | 125 Views

नूंह मेवात , ( लियाकत अली )  । जमीन की उपजाऊ शक्ति की पहचान कर यदि खेती का कार्य उन्नत किस्म के बीजो के साथ किया जाए तो किसान अच्छी फसल के संकेत है। यह उदगार आज एसडीएम प्रदीप अहलावत ने खेड़ा-खलीलपुर में आयोजित किसान मेले में किसानों को संबोधित करते हुए व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि अब कृषि में बुहत ज्यादा खर्चा होता है, इसलिए पैदावार ज्यादा से ज्यादा हो,उसके लिए वैज्ञानिक तरीके से खेती करना अच्छा रहता है। इस प्रकार के किसान मेलो से किसान को खेती बारे अच्छी जानकारी मिलती है। इसका पूरा लाभ किसानों को उठाना चाहिए ताकि ज्यादा से ज्यादा लाभ ले सकें। उन्होंने कहा कि खेती के साथ-साथ बागवानी व पशुपालन इत्यादि पर भी पूरा ध्यान दे और अपनी आय को बढाए। इस मौके पर उन्होंने स्कूल में सौलर सिस्टम, व गांव में बनाए गए नए रास्ते का उद्घाटन भी किया तथा समान्य चौपाल का शिलान्यास किया। इस मौके पर प्रश्रोतरी प्रतियोगिता का आयोजन किया जिसमें विजेताओं को पुरस्कार प्रदान किया। इस मेले में किसानों के लिए खाद बीज व अन्य चीजो की प्रदर्शनी का भी आयोजन किया गया, जिसका अवलोकन एसडीएम ने अवलोकन किया। एसडीएम प्रदीप अहलावत ने कहा अन्नदाता खुशहाल होगा तो देश भी खुशहाल होगा। उन्नत एवं खुशहाल होने के लिए सभी किसान आधुनिक तरीकों से खेती करें। ताकि कम लागत में ज्यादा फसल उगाकर ज्यादा से ज्यादा लाभ कमा सकें। उन्होंने कहा खेत की उर्वरा शक्ति को बनाए रखने के लिए वे रसायनिक खादों का कम से कम प्रयोग करें। जैविक खाद का ज्यादा से ज्यादा खेतों में प्रयोग करे। जैविक खाद से फसल अच्छी होने के साथ-साथ खेत की उर्वरा शक्ति बनी रहती है। उन्होंने कहा कृषि कार्य में उपयोग में आने वाले सभी यंत्रों पर प्रदेश सरकार सबसीड़ी दे रही है। इसलिए सभी किसानों को चाहिए कि वे प्रदेश सरकार की लाभकारी योजना का लाभ उठाएं। उन्होंने कहा कि फसलों को बीमारी से बचाने के लिए समय पर कीटनाशक दवाओं का इस्तेमाल करें। उन्होंने कहा खेतों मे ड्रिपिंग सिस्टम से सिचाईं करें इससे पानी की बचत तो होती ही है साथ की खेतों सिचांई भी अच्छी तरह से होती है। उन्होंने कहा इस किसान मेले में विभाग के स्पेशलिस्ट विभिन्न प्रकार की गई इसका पूरा लाभ उठाऐं। इस अवसर पर उपनिदेशक कृषि विभाग डा.चांद राम, एसडीओ डा. अजीत सिंह, क्लालिट कंट्रोल आफिसर अजय कुमार तोमर, कृषि विज्ञान केन्द्र सिकोहपुर से वरिष्टï वैज्ञानिक डा. अनामिका शर्मा, डा. भरत सिंह, डा. लाल चन्द शर्मा विवेक कुमार, भगवानदास सहित गांवों के किसान मौजूद थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।