धुंध में बढे सड़क हादसे , गुरुग्राम – अलवर राष्ट्रीय राजमार्ग पर वाहनों की रफ़्तार थमी
December 21st, 2019 | Post by :- | 75 Views

नूंह मेवात , ( लियाकत अली )  । कोहरे की चादर से विजिबिलिटी बेहद कम हो गई है। जिले के सबसे व्यस्त मार्ग गुरुग्राम – अलवर पर वाहनों की रफ़्तार में कमी आई है। इसी कड़ाके की ठंड और दो दिन से पड़ रहे कोहरे की वजह से राजाका गांव के समीप दो ट्रक आपस में भीड़ गए। सड़क के बीचोंबीच भिड़े इन वाहनों में रोड़ी – क्रेशर इत्यादि भरा होने और उसके सड़क पर बिखर जाने की वजह से वाहनों का पहिया थमने लगा। दोनों और से सड़क पर आने वाले वाहनों की संख्या अधिक होने के कारण जाम जैसा नजारा देखने को मिला। राजाका गांव के समीप मोड़ पर यह हादसा बीती रात करीब 1 बजे का बताया जा रहा है। सड़क पर पड़े दोनों वाहनों को शुक्रवार को दिनभर नहीं हटाया गया , जिससे राहगीरों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। खास बात यह है कि उपरोक्त मार्ग जिले का मुख्य मार्ग है , लेकिन कहीं सफ़ेद पट्टी मिट चुकी है , तो पुलिया , खम्बे , मोड़ इत्यादि पर कोई सचेतक चिन्ह नहीं हैं और रिफ्लेक्टर की बात करना तो किसी बेईमानी से कम नहीं है। धुंध दो दिन से शुरू हुई है। केएमपी पर सीजन की पहली धुंध ने ही तीन लोगों की जान जिले की सीमा में ले ली तो अगले ही दिन गुरुग्राम – अलवर राष्ट्रीय राजमार्ग पर दो बड़े वाहनों में धुंध की वजह से कम दिखाई देने के कारण भिड़ंत हो गई। गनीमत रही की धुंध की वजह से दोनों वाहनों की गति कम थी , जिसकी वजह से वाहनों में बैठे चालक – परिचालक इत्यादि को मामूली चोट आई , वर्ना बड़ा हादसा हो सकता था।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।