नागरिकता संशोधन बिल के समर्थन में उतरे सामाजिक संगठन, राष्ट्रपति के नाम सौंपा ज्ञापन
December 19th, 2019 | Post by :- | 77 Views
होडल,  (मधुसूदन): केंद्र सरकार द्वारा पारित किए गए नागरिकता संशोधन बिल के समर्थन को लेकर शहर के लोगों में भारी उत्साह है। बिल के समर्थन में शहर के विभिन्न सामाजिक सगठनों के सैंकडों कार्यकर्ता बुधवार को पुरानी सब्जी मंडी स्थित लक्ष्मी नारायण मंदिर के निकट एकत्रित हुए और बिल के समर्थन में नारेबाजी करते हुए लघु सचिवालय पहुंचे, जहां उन्होंने तहसीलदार गुरुदेव ङ्क्षसह को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा।   विश्वहिंदू परिषद,बजरंग दल, आर.एस.एस., गौरक्षा दल, धर्म जागरण मंच सहित कई अन्य सामाजिक संगठनों के सैंकडों सदस्यों ने हिस्सा लिया। जिसमें मुय रूप से डा. महेंद्र ङ्क्षसह,लोकेश कुमार,राकेश कालडा,भगतङ्क्षसह रावत,जमोहन गोयल,मनोज सौरोत,आशीष अग्रवाल,अश्वनी कुमार,प्रेमराज तंवर,हरीओम तिवारी,ललित कुमार,उत्तम भारद्वाज,बिजेंद्र ङ्क्षसह,अधिवक्ता योगेश सौरोत,नरेश कुमार,रंघावा बैंसला,बिक्रम ङ्क्षसह,उदयवीर,मेघश्याम सहित सैंकडों लोगों ने राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपकर नागरिकता संशोधन बिल का समर्थन किया। ज्ञापन में बताया कि कुछ असामाजिक तत्व सरकार द्वारा पारित किए गए बिल का विरोध कर रहे हैं और बेवजह इस मामले को तूल दे रहे हैं। इस बिल को लेकर कुछ लोग मेवात क्षेत्र में दुष्प्रचार कर जनता को गुमराह करने का प्रयास करके विशेष वर्ग के लोगों को उकसाने का कार्य कर रहे हैँ। इस अवसर पर बजरंग दल के लोकेश सिंगला,गौरक्षा दल के प्रधान भगतङ्क्षसह रावत,धर्म जागरण मंच के डा. महेंद्र सिंह आदि का कहना था कि सरकार का उक्त  नागरिक संसोधन बिल देश की एकता और अखंडता में महत्वपूण भूमिका निभाएगा। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा पारित किए गए नागरिकता संशोधन बिल का सामाजिक संगठनों के सदस्य सर्व सम्मति से समर्थन करते हैं। नागरिकता बिल में इस संशोधन से दूसरे देशों से आए हिंदुओं के साथ साथ सिख, बौद्ध, जैन, पारसी और ईसाइयों के लिए बगैर वैध दस्तावेजों के भी भारतीय नागरिकता हांसिल करने का रास्ता साफ हो गया है। सभी लोगों ने सरकार के इस फैसले का समर्थन करते हुए आभार व्यक्त किया। सामाजिक संगठनों के सदस्यों ने ज्ञापन के माध्यम से इस बिल को लेकर भ्रम फैलाने वालों की पहचान कर उनके खिलाफ कार्रवाई किए जाने की मांग की है। ज्ञापन देने से पहले जूलूस में शामिल लोगों ने अपने हाथों में घुसपैठियो भारत छोडो और वी वांट कैब जैसे स्लोगन लिखे पोस्टर ले रखे थे। उन्होंने भाजपा सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व गृहमंत्री अमित शाह जिंदाबाद के जमकर नारे लगाए।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।