वकीलों ने नागरिक संशोधन के विरुध आवाज उठाने का लिया निर्णय
December 17th, 2019 | Post by :- | 69 Views
नूंह मेवात , ( लियाकत अली )  ।   केंद्र सरकार द्वारा लागू किए गए नागरिक संशोधन बिल के विरुध जहां पूरे देश में आवाज बुलंद की जा रही है वहीं मेवात जिले में भी इस बिल के खिलाफ लोगों में भारी आक्रोश है। मेवात में जहां बिल के विरोध में आम आदमी  सडक़ों पर उतरने को मजबूर है, वहीं मंगलवार को पुन्हाना व पिनगवां के वकीलों ने रशीद अहमद एडवोकेट की अध्यक्षता में इस बिल के खिलाफ आवाज बुलंद करने को लेकर एक मीटिंग आयोजित की।
 मीटिंग में वकीलों ने फैसला लिया कि वह इस काले कानून को किसी भी सूरत में लागू नहीं होने देंगे। चाहे उन्हें किसी भी हद तक जाना पड़े। वकीलों ने कहा है कि इस तरह कानून को लागू कर केंद्र सरकार देश से आजादी छीनना चाहती है। उन्होंने कहा है कि इस विरोध में वह सभी के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलेंगे, जब तक इस काले कानून को वापिस नहीं किया जाएगा, तब विरोध जारी रहेगा। मीटिंग के दौरान फिरोजपुर झिरका बार एसोसिएशन की पुन्हाना इकाई कमैटी के सराफत एडवोकेट, शाहब खां एडवोकेट, मुस्ताक एडवोकेट, ताहिर एडवोकेट, फकरुददीन एडवोकेट, इरशाद अली एडवोकेट, मोहम्मद रफीक एडवोकेट, तोफिक अहमद सिविल कोर्ट पिनगवां, शमीम एडवोकेट, जुबेर खान टाइपिस्ट, सैय्यद समाज के जिला प्रधान साहुन खान मेवली, समाजसेवी तोसिफ बीसरु, रसीद नंबरदार बीसरू सहित काफी लोग मौजूद रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।